close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अब नोएडा पर भी मंडराया बाढ़ का खतरा, सतर्क हुआ प्रशासन

बीते दिनों हरियाणा के हथिनी कुंड गैराज से यमुना नदी में पांच लाख क्‍यूसेक पानी छोड़ा गया था. संभावना जताई जा रही थी कि यह पानी मंगलवार तक नोएडा पहुंच जाएगा

अब नोएडा पर भी मंडराया बाढ़ का खतरा, सतर्क हुआ प्रशासन
बाढ़ की स्थिति में लोगों तक त्‍वरित राहत पहुंचाने के लिए अधिकारियों को सतर्क कर दिया गया है. (फाइल फोटो)

नोएडा: यमुना और हिंडन नदी में लगातार पानी के बढ़ते स्‍तर को देखते हुए अब नोएडा में भी बाढ़ का खतरा मंडराने लगा है. प्रशासन ने हिंडन और यमुना के किनारे बसे गांवों को अलर्ट किया है. वहीं जिला प्रशासन ने सभी स्‍थानीय अधिकारियों को बाढ़ की स्थिति में लगातार नजर बनाए रखने के निर्देश दिए हैं. इसके अलावा, सभी उपजिलाधिकारियों को बाढ़ के दौरान स्थिति से निपटने के लिए अपनी तैयारियों को पूरा करने के लिए भी कहा है. 

उल्‍लेखनीय है कि बीते दिनों हरियाणा के हथिनी कुंड गैराज से यमुना नदी में पांच लाख क्‍यूसेक पानी छोड़ा गया था. संभावना जताई जा रही थी कि यह पानी मंगलवार तक न केवल नोएडा पहुंच जाएगा, बल्कि इस पानी के चलते बाढ़ की स्थिति भी उत्‍पन्‍न हो सकती है. वहीं, हिंडन नदी में भी लगातार पानी का स्‍तर बढ़ता जा रहा है. नोएडा से गुजरने वाली इन दोनों नदियों में पानी के बढ़ते स्‍तर को देखते हुए बाढ़ की लगातार आशंका बनी हुई है. 

Live TV:

वहीं, बाढ़ की संभावनाओं को देखते हुए जिला प्रशासन ने एक दर्जन से अधिक चौकियां स्‍थापित की है. बाढ़ के दौरान, लोगों तक त्‍वरित सहायता पहुंचाने के लिए इन चौकियों में पर्याप्‍त संख्‍या में कर्मचारियों को तैनात किया गया है. जिस गांवों में ये चौकियां बनाई गई हैं, उनमें लतीफपुर बांगर, घरबरा, कासना, बादौली बांगर, याकूतपुर, कुलेसरा, जेवर, मेवला गोपालगढ़, झुप्पा, भाईपुर ब्रह्मनान, जेवर आदि शामिल हैं.