पैसा दोगुना करने के नाम पर करती थी ठगी,आश्रम से बरामद हुए 5 लाख के नकली नोट

महिला ने लक्ष्मी प्राप्ति के अनुष्ठान के लिए अयोध्या से कुछ पुरोहितों को बुलाया था. आरोप है कि पुरोहितों को भोजन कराने के बाद तांत्रिक महिला गीता पाठक ने दक्षिणा के नाम पर नकली नोट दिए. 

पैसा दोगुना करने के नाम पर करती थी ठगी,आश्रम से बरामद हुए 5 लाख के नकली नोट
सांकेतिक तस्वीर

राजकुमार दीक्षित/सीतापुर: सीतापुर से एक ऐसा मामला सामने आया है जहां एक आश्रम चलाने वाली तांत्रिक महिला पैसा दोगुना करने के नाम पर लोगों ठग लेती थी. इस महिला की पोल तब खुली जब इसने अनुष्ठान के लिए बुलाए पुरोहितों को नकली नोट थमाये.

दरअसल महिला ने लक्ष्मी प्राप्ति के अनुष्ठान के लिए अयोध्या से कुछ पुरोहितों को बुलाया था. आरोप है कि पुरोहितों को भोजन कराने के बाद तांत्रिक महिला गीता पाठक ने दक्षिणा के नाम पर नकली नोट दिए. पुरोहितों ने इसकी सूचना पुलिस को सूचना दी. पुलिस ने मौके पर पहुंचकर गीता पाठक के आश्रम से लगभग 20 लाख रुपए नकली बरामद किए हैं. पूरा मामला रामपुर मथुरा थाना इलाके का है.

ये भी पढ़ें-वाराणसी के पूर्व सांसद और कांग्रेस नेता राजेश मिश्रा का एक्सिडेंट, सिर में लगी गंभीर चोट

SSP एनपी सिंह ने बताया कि रामपुर मथुरा थाना क्षेत्र के टेरवा मनिकापुर गांव में बीते 70 दिन से एक अनुष्ठान चल रहा है. जिसमें 53 पुरोहितों को बुलाया गया था. पुरोहित लगातार पिछले 13 दिन से अनुष्ठान कर रहे थे. जिसके लिए पुरोहितों को दक्षिणा दी गई. जब उन्होंने पैसों से भरा बैग खोलकर देखा तो वे लोग दंग रह गए. बैग में ऊपर असली और अंदर लाखों रूपये की मनोरंजन बैंक ऑफ इंडिया की नोट भरे थे. जब पुरोहितों ने महिला ठग से इस बारे में बात करनी चाही तो उसने कुल्हाड़ी लेकर पुरोहितों को डराया और मौके से भाग गई.

एसपी एनपी सिंह का कहना है अयोध्या से आए ब्राह्मणों की शिकायत पर मुकदमा दर्ज किया गया है और महिला की तलाश जारी है. इस महिला तांत्रिक पर कई जनपदों में मुकदमा दर्ज है.

Watch LIVE TV-