close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राम मंदिर पर फिर गरमाई सियासत, आज अपने 18 सांसदों के साथ रामलला के दर्शन करेंगे उद्धव

अयोध्या की विवादित भूमि पर एक बार फिर से राम मंदिर निर्माण को लेकर सियासत तेज हो गई है. आज शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे अपने 18 सांसदों के साथ अयोध्या पहुंच रहे हैं. 

राम मंदिर पर फिर गरमाई सियासत, आज अपने 18 सांसदों के साथ रामलला के दर्शन करेंगे उद्धव
जब लोकसभा चुनाव से पहले उद्धव ठाकरे पहली बार अयोध्या पहुंचे थे, तब कहा था कि राम हमारे लिए राजनीति का विषय नहीं हैं.

नई दिल्ली : अयोध्या की विवादित भूमि पर एक बार फिर से राम मंदिर निर्माण को लेकर सियासत तेज हो गई है. आज शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे अपने 18 सांसदों के साथ अयोध्या पहुंच रहे हैं. शेड्यूल के मुताबिक, उद्धव ठाकरे सुबह 9 बजे अयोध्या पहुंचेंगे और 11 बजे रामलला के दर्शन के लिए जाएंगें. उद्धव के दोबारा अयोध्या आने के इस कदम को राम मंदिर निर्माण की पहली सीढ़ी के तौर पर देखा जा रहा है. 

ये भी पढ़ें: अयोध्या में राम 'वनवास' में, 'सबसे बड़ा विश्वासघात' : शिवसेना

लोकसभा चुनावों से पहले भी किया था दौरा
लोकसभा चुनाव से पहले भी उद्धव ठाकरे ने अपने परिवार के साथ अयोध्या का दौरा किया था और राम मंदिर निर्माण को लेकर मोदी सरकार को कठघरे में खड़ा किया था. अब लोकसभा चुनाव के बाद साधु-संतों के जयकारे के बीच उद्धव ठाकरे खुद भी 16 जून को अपने 18 सांसदों के साथ अयोध्या पहुंच रहे हैं.

जब लोकसभा चुनाव से पहले उद्धव ठाकरे पहली बार अयोध्या पहुंचे थे, तब कहा था कि राम हमारे लिए राजनीति का विषय नहीं हैं. शिवसेना राम के नाम पर कभी वोट नहीं मांगेगी. लोकसभा चुनाव के बाद हम फिर अयोध्या आएंगे. वैसे देखा जाए, तो उद्धव ठाकरे की सियासी विरासत ही अयोध्या से जुड़ी है. हालांकि ये बात अलग है कि उनको इसे अयोध्या यात्रा के साथ संभालने का ख्याल तीन दशक बाद आया.

संजय राउत ने कही ये बात
संजय राउत ने कहा, नवनिर्वाचित 18 लोकसभा सांसदों के साथ अयोध्या में रामलला का दर्शन करेंगे. उन्होंने बताया कि पार्टी के सभी सांसद 15 जून को ही अयोध्या पहुंच आएंगे जबकि ठाकरे के 16 जून को पहुंचने की उम्मीद है. संजय राउत ने कहा कि लोकसभा चुनावों में हमें बहुमत मिला है, उसमें रामलला और मंदिर का निर्माण कार्य भी शामिल हैं. राउत ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण कार्य जल्द ही योगी जी और मोदी जी के नेतृत्व में शुरू होगा.