close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

VIDEO: रास्ते में बीमार महिला को देख गाड़ी से उतरीं स्मृति, काफिले की एंबुलेंस से भेजा अस्पताल

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने अमेठी संसदीय क्षेत्र की एक बीमार महिला की मदद करके लोगों का दिल जीत लिया.

VIDEO: रास्ते में बीमार महिला को देख गाड़ी से उतरीं स्मृति, काफिले की एंबुलेंस से भेजा अस्पताल
स्मृति ईरानी ने एंबुलेंस का गेट खोलकर महिला को अंदर बैठाया और अस्पताल के लिए रवाना किया.

अमेठी: केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (Smriti Irani) ने शनिवार को अमेठी संसदीय क्षेत्र की एक बीमार महिला की मदद करके लोगों का दिल जीत लिया. आज जब उनका काफिला बरौलिया गांव से निकला तभी रास्ते में एक महिला स्ट्रेचर पर जाते उन्हें नजर आई. यह देख वह झट से अपनी गाड़ी से उतरीं और सुरक्षा व्यवस्था में लगी सरकारी एंबुलेंस से मरीज को गौरीगंज जिला अस्पताल रवाना किया.

जानकारी के अनुसार, गौरीगंज के कूड़ा के रहने वाले भीम नारायण की 21 साल की बेटी आरती का कुछ समय पहले एक्सीडेंट हो गया था. थोड़े समय के बाद उसे पैरलासिस लकवा रोग भी हो गया. ऐसे में वह अपने कदमों से चलने से लाचार है. आज परिजन उसे ट्राई साइकिल स्ट्रेचर पर बैठाकर इलाज के लिए जा रहे थे, तभी उधर से स्मृति ईरानी का काफिला गुजर रहा था. जैसे ही केंद्रीय मंत्री ने लड़की को इस हालत में देखा स्वयं गाड़ी से उतरीं, हाल जाना और फिर उसे अपने काफिले में शामिल एंबुलेंस से अस्पताल भिजवाया.

गोवा सीएम ने किया बरौलिया के विकास का वादा
केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी गोवा मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत के साथ शनिवार 22 जून से अमेठी के दो दिवसीय दौरे पर हैं. ईरानी के साथ बरौलिया गांव पहुंचे गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने कहा कि सांसद के रूप में गोवा के दिवंगत पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने बरौलिया गांव को गोद लिया था. उन्होंने बरौलिया के विकास का वादा किया. उन्होंने कहा, "अगर उत्तर प्रदेश सरकार चाहेगी तो हम पर्रिकर की याद में इस गांव की शिक्षा, स्वास्थ्य व्यवस्था, सड़क, बिजली, पानी, जो अन्य समस्या होगी उसको ठीक करेंगे.

सुरेंद्र सिंह की हत्या बहुत ही दुखद
इस दौरान मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत बरौलिया गांव में दिवंगत भाजपा नेता सुरेंद्र सिंह के परिजनों से भेंट करने पहुंचे. उन्होंने कहा कि सुरेंद्र सिंह की हत्या बहुत ही दुखद घटना है, वह पार्टी के जूझारू कार्यकर्ता थे और भाजपा परिवार उनके परिजनों के साथ खडा है. उल्लेखनीय है कि भाजपा नेता बरौलिया गांव के पूर्व प्रधान सुरेंद्र सिंह की 25 मई को गोली मार कर हत्या कर दी गई थी.