पुजारी की हत्या कर शव को खंभे से लटकाया, इलाके में फैला तनाव तो प्रशासन के फूल गए हाथ-पैर

रायबरेली जिले के ऊंचाहार क्षेत्र में एक मंदिर के पुजारी की हत्या कर शव को मंदिर के द्वार के पास खम्भे से लटका दिया गया. 

पुजारी की हत्या कर शव को खंभे से लटकाया, इलाके में फैला तनाव तो प्रशासन के फूल गए हाथ-पैर
.(प्रतीकात्मक तस्वीर)

रायबरेली (उ.प्र.): रायबरेली जिले के ऊंचाहार क्षेत्र में एक मंदिर के पुजारी की हत्या कर शव को मंदिर के द्वार के पास खम्भे से लटका दिया गया. पुलिस सूत्रों ने आज बताया कि ऊंचाहार थाना क्षेत्र के बाबा का पुरवा में रामजानकी मंदिर के पुजारी स्वामी प्रेमदास (64) की मंगलवार रात हत्या कर शव को मंदिर के द्वार के पास एक खम्भे से लटका दिया गया. उन्होंने बताया कि सुबह कुछ लोगों ने पुजारी का शव देखकर पुलिस को सूचना दी. मौके पर बड़ी संख्या में ग्रामीण एकत्र हो गए. ग्रामीणों ने पहले शव नहीं उतारने दिया. मौके पर डीएम और एसपी कई थानों के पुलिस बल के साथ पहुँचे.

ग्रामीण काफी समझाने के बाद भी नहीं माने.  लखनऊ से एडीजी (कानून- व्यवस्था) सुजीत पांडेय भी वहां पहुँचे. कार्रवाई के आश्वासन पर ग्रामीणों ने शव उतारने दिया.  सूत्रों ने बताया कि इस मामले में बैजनाथ मौर्य, संजीव, राम स्वरूप दास और अमृतलाल के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है.

इस मामले में मुकदमा दर्ज कराने वाले महंत मौनी बाबा का कहना है कि मंदिर के स्वामित्व में काफी जमीन है और आरोपी भू-माफिया बैजनाथ मौर्य उस पर कब्जा करना चाहता था. इससे पहले भी वह मंदिर के पूर्व महन्त स्वामी सत्यनारायण दास की हत्या करवा चुका है. उसने मंदिर की कुछ जमीन पर निर्माण कार्य भी करा लिया है. पुलिस अधीक्षक सुनील सिंह ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. 

इनपुट भाषा से भी