साइबर ठगों ने उत्तराखंड के प्रमुख सचिव के बेटे को भी नहीं बख्शा, ऐसे वसूले पैसे

ठगी का मामला संज्ञान में आने के बाद आरटीओ डीसी पठोई ने एआरटीओ को केस की जांच करने के आदेश दिए. साथ ही, फर्जी वेबसाइट बनाने वाले ठगों के खिलाफ भी FIR दर्ज कराई गई.

साइबर ठगों ने उत्तराखंड के प्रमुख सचिव के बेटे को भी नहीं बख्शा, ऐसे वसूले पैसे
सांकेतिक तस्वीर.

देहरादून: उत्तराखंड के प्रमुख सचिव आनंद वर्धन के बेटे साइबर क्राइम के चंगुल में फंस गए. ऑनलाइन फ्रॉड करने के लिए जालसाजों ने ट्रांस्पोर्ट डिपार्टमेंट की एक फर्जी वेबसाइट बनाई थी, जिसपर ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के नाम पर ठगों ने प्रमुख सचिव के बेटे से 1375 रुपये लिए और फरार हो गए. मामला तब सामने आया जब प्रमुख सचिव के निजी सचिव ने ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट के अधिकारियों से लाइसेंस के संबंध में जानकारी मांगी. वहां से पता चला कि प्रमुख सचिव के बेटे के नाम पर कोई एप्लीकेशन आई ही नहीं है.

ये भी पढ़ें: धर्मांतरण कराकर हो रही थी शादी, पुलिस ने रुकवाई, समझाया 'लव जिहाद' कानून

ठगों के खिलाफ FIR दर्ज
ठगी का मामला संज्ञान में आने के बाद आरटीओ डीसी पठोई ने एआरटीओ को केस की जांच करने के आदेश दिए. साथ ही, फर्जी वेबसाइट बनाने वाले ठगों के खिलाफ भी FIR दर्ज कराई गई.

विभाग को दिया गया शिकायती पत्र
जानकारी के मुताबिक उत्तराखंड सेक्रेटेरियट में पर्सनल सेक्रेटरी गोविंद सिंह ने डिवीजनल ट्रांस्पोर्ट ऑफिसर को एक शिकायती पत्र दिया जिसमें बताया गया है कि आनंद वर्धन के बेटे ने ड्राइविंग लाइसेंस बनाने के लिए ऑनलाइन अप्लाई किया गया था. इस दौरान ऑनलाइन पेमेंट एप फोन-पे से क्यूआर कोड स्कैन कर 1375 रुपये जमा किए गए थे, लेकिन उसके बाद से उन्हें कोई भी जानकारी नहीं दी गई. इस मामले में जब डिपार्टमेंट से पूछा गया तो कर्मचारियों ने बताया कि विभाग को न ही एप्लीकेशन मिली और न ही उसके साथ जमा की गई फीस.

ये भी पढ़ें: सोनभद्र के नए एसपी के साथ चार्ज लेने से पहले हुआ बड़ा हादसा, बाल-बाल बचे

पुलिस ने शुरू की जांच
मामले में आरटीओ डीसी पठोई ने बताया कि केस से ऐसा लगता है कि कुछ ऑनलाइन फ्रॉड करने वाले लोगों ने नकली वेबसाइट बनाकर फीस जमा कराई थी, जो कि यह एक गंभीर विषय है. एआरटीओ (प्रशासन) द्वारिका प्रसाद को केस की विभागीय स्तर पर जांच करने के साथ ही ठगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने का आदेश दिया गया था. अब पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. उन्होंने कहा है कि जल्द ही जालसाजों को पकड़ा जाएगा.

WATCH LIVE TV