VIDEO: आग बुझाने के लिए स्मृति ने चलाया हैंडपंप, महिला से कहा- अम्मा परेशान मत हो

रविवार की दोपहर मुंशीगंज के पश्चिम दुआरा के गोवर्धनपुर गांव के सीवान में गेहूं के खेत में आग लग गई. तेज हवाओं के चलते आग ने विकराल रूप धारण कर लिया.

VIDEO: आग बुझाने के लिए स्मृति ने चलाया हैंडपंप, महिला से कहा- अम्मा परेशान मत हो
खेतों में जलती फसल देख ईरानीभावुक हो गईं और हाथ में बाल्टी लेकर स्वयं आग बुझाने में जुट गईं. फोटो साभारः ANI

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव अपने चरम पर है. हर कोई मतदाताओं को लुभाने में लगा हुआ है. अमेठी में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी राहुल गांधी को हराने के लिए पुरजोर कोशिश में जुटी हैं. पांचवे चरण में 6 मई को अमेठी में मतदान होना है. ईरानी जनता में अपनी छाप छोड़ने के लिए वह कोई कोर-कसर छोड़ नहीं रही. रविवार को ईरानी अमेठी में चुनाव प्रचार कर रही थी तभी उन्हें पता चला कि मुंशीगंज के पश्चिम दुआरा गांव में आग लगी है वह तुरंत गांव की ओर निकल पड़ी. गांव में पहुंचते ही वह आग बुझाने में मदद करने लगी. पास में लगे हैंडपंप को चलाकर वह बाल्टी में पानी भरने लगी. उनको ऐसा करते देख पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों के साथ भाजपा कार्यकर्ता भी आग बुझाने में जुट गए.

आग में एक बुजुर्ग महिला का सामान जल गया तो ईरानी ने महिला को गले लगाकर ढांढस बंधाते हुए कहा कि, अम्मा परेशान न हो, कुछ नहीं होगा. ईरानी ने सभी से धैर्य रखने की बात कही और एसडीएम को फोन कर तत्काल मौके पर पहुंचने व पीड़ितों को राहत दिलाने का भी निर्देश दिया. रविवार की दोपहर मुंशीगंज के पश्चिम दुआरा के गोवर्धनपुर गांव के सीवान में गेहूं के खेत में आग लग गई. तेज हवाओं के चलते आग ने विकराल रूप धारण कर लिया.

जिसके बाद आग तेजी से गांव की तरफ बढ़ने लगी. गांव के लोग फायर ब्रिगेड को सूचना देने के साथ ही स्वयं आग बुझाने में जुट गए. क्षेत्र में प्रचार कर रही स्मृति ईरानी के साथ चल रहे एक कार्यकर्ता ने गांव में आग लगने की जैसे ही सूचना दी वह सारा कार्यक्रम छोड़ कर घटना स्थल की ओर रवाना हो गई. खेतों में जलती फसल देख वह भावुक हो गईं और हाथ में बाल्टी लेकर स्वयं आग बुझाने में जुट गईं. 

प्रियंका गांधी वाड्रा पर ईरानी ने साधा निशाना 
वहीं दूसरी तरफ स्मृति ईरानी ने प्रियंका गांधी वाड्रा पर निशाना साधते हुए कि, मुझे बहुत खुशी है कि, श्रीमती वाड्रा अमेठी में जितनी बार आईं हैं वह उतनी बार गिनती कर रही हैं. क्योंकि वह लोगों को बता सके कि वह कितनी बार अमेठी का दौरा कर चुकी हैं. जबकि उनके भाई राहुल जो अमेठी से सांसद हैं वह जनता के बीच दिखे ही नहीं.