ZEE जानकारी: चीन ने किया चमत्कार, मात्र 10 दिन में बनाया 1000 बेड का अस्पताल

अब आपको चीन के उस चमत्कार के बारे में बताते हैं जिसने पूरी दुनिया को हैरान कर दिया है. 

ZEE जानकारी: चीन ने किया चमत्कार, मात्र 10 दिन में बनाया 1000 बेड का अस्पताल

अब आपको चीन के उस चमत्कार के बारे में बताते हैं जिसने पूरी दुनिया को हैरान कर दिया है. शुक्रवार को हमने आपको बताया था कि चीन सिर्फ 10 दिनों में एक ऐसे अस्पताल का निर्माण कर रहा है. जिसमें Corona virus के मरीज़ों को रखा जाएगा. और चीन ने ठीक 10 दिनों में इस अस्पताल का निर्माण पूरा कर लिया है. और अब कल इसे मरीज़ों के लिए खोल भी दिया जाएगा.

चीन ने 24 जनवरी को एक हज़ार बेड वाले इस अस्पताल का निर्माण शुरू किया था और तब Wuhan के प्रशासन ने दावा किया था कि इसे पूरा करने में 10 दिन लगेंगे. चीन ने इस प्रोजेक्ट को बिना एक दिन की भी देरी किए समय पर पूरा कर लिया है.

ये कोई छोटा मोटा अस्पताल नहीं है बल्कि 25 हज़ार स्क्वैयर मीटर में फैला अस्पताल है. इसके निर्माण में 4 हज़ार से ज्यादा मजदूर पिछले 10 दिनों से जुटे हुए थे जो दिन रात बिना रुके इस अस्पताल का निर्माण कर रहे थे.

चीन ने 10 दिनों में एक हज़ार बेड वाले अस्पताल का निर्माण कर लिया जबकि भारत में इतने ही बड़े अस्पताल का निर्माण करने में 10 वर्ष तक लग जाते हैं. इसलिए चुनौतियों को कैसे इच्छाशक्ति के दम पर हराया जाता है..ये भारत को चीन से सीखना चाहिए.

कोरोना वायरस को काबू करने के लिए चीन ने Drone की मदद ली है. ये Drone कोरोना वायरस के खतरों के बारे चीन की जनता को जागरुक कर रहे हैं. और जरूरत हुई तो उन्हें डांटते भी हैं. चीन में पुलिस अब Drone की मदद से लोगों की निगरानी कर रही है इन Drones में कैमरे और स्पीकर लगे हुए हैं.

और अगर कोई व्यक्ति बिना मास्क पहने हुए घर से बाहर दिखाई देता है तो Drones पर लगे स्पीकर की मदद से पुलिस अधिकारी लोगों को चेतावनी देते हैं. इंसानों को चेतावनी देते ये Drones भविष्य की तस्वीर हैं. हो सकता है अगले कुछ वर्षों में मनुष्यों को गलती करने से रोकने के लिए Drones का इस्तेमाल आम हो जाए.

क्योंकि ये इंसानों के मुकाबले ज्यादा बड़े इलाके पर नजर रख सकते हैं और लगातार काम करते हुए ये कभी थकते भी नहीं हैं. Corona Virus को लेकर भारत की तैयारियों से जुड़ा एक Update ये भी है कि भारत ने भी चीन से आने वाले यात्रियों पर प्रतिबंध लगाना शुरू कर दिया है. फिलहाल चीन का पासपोर्ट रखने वाले लोग और ऐसे लोग जिनके पास Electronic Visa है वो भारत नहीं आ पाएंगे. इसके अलावा Air India और Indigo जैसी Airlines ने भी चीन के कुछ शहरों के लिए अपनी सेवाएं रोक दी हैं.

अब आप समझिए कि अमेरिका और चीन जैसे देश Corona virus जैसी स्थिति से निपटने के लिए क्या करते हैं और

भारत को इन देशों से क्या सीखना चाहिए?
सबसे पहले भारत को चीन से आने वाली और चीन जाने वाली सभी फ्लाइट्स पर रोक लगाई जानी चाहिए.

चीन की यात्रा के बारे में पता करने के लिए यात्रियों के पासपोर्ट की जांच होनी चाहिए.

सभी संदिग्ध मरीजों को अलग रखने की व्यवस्था होनी चाहिए.

और कोरोना वायरस का मुकाबला करने के लिए मास्क, Gloves, जांच किट और एंटी वायरल दवाओं का पर्याप्त स्टॉक होना चाहिए.

भारत इनमें से कुछ कदम उठा भी रहा है. लेकिन अभी इस पर और सख्ती से काम किए जाने की ज़रूरत है. क्योंकि अगर एक बार ये virus काबू से बाहर हो गया तो भारत की कमज़ोर होती अर्थव्यवस्था के लिए ये एक बड़ा झटका होगा. जिससे उबरना भारत के लिए मुश्किल हो जाएगा.