मोदी सरकार की इस पहल से आने वाले दिनों में 2.25 करोड़ महिलाओं को मिलेगा रोजगार

पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने ओडिशा में 100 उज्ज्वला सैनिटरी नैपकिन इकाइयों की शुरूआत की.

मोदी सरकार की इस पहल से आने वाले दिनों में 2.25 करोड़ महिलाओं को मिलेगा रोजगार
नई पहल के तहत ओडिशा के 30 जिलों में 93 ब्लॉक को कवर किया जाएगा.

भुवनेश्वर: पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने रविवार को ‘उज्ज्वला सैनिटरी नैपकिन’ पहल की शुरुआत करते हुए कहा कि ओडिशा में 2.25 करोड़ महिलाओं को सशक्त और आत्मनिर्भर बनाने में अभी समय लगेगा. प्रधान ने कहा कि इस नई पहल के तहत ओडिशा के 30 जिलों में 93 ब्लॉक को कवर किया जाएगा. तेल विपणन कंपनियां (ओएमसी) 2.94 करोड़ रुपए की लागत से सामान्य सेवा केंद्रों (सीएससी) में 100 विनिर्माण इकाइयों की स्थापना करेंगी.

इस मिशन का लक्ष्य महिला स्वच्छता एवं स्वास्थ्य पर महिलाओं को शिक्षित करना, कम लागत वाले पर्यावरण के अनुकूल सैनिटरी पैड तक उनकी पहुंच बढ़ाना और ग्रामीण रोजगार एवं अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देना है. प्रधान ने कहा कि कम से कम 10 महिलाओं को प्रत्येक केन्द्र पर रोजगार मिलेगा. उनमें से चार से पांच महिलाएं नैपकिन बनाने और अन्य उसे बेचने का काम करेंगी.

मोदी सरकार का धांसू प्लान, 2020 तक शुरू हो जाएगा 1 करोड़ घर बनाने का काम

केन्द्रीय मंत्री ने इस पहल के जरिए महिलाओं को रोजगार के अवसर मिलने का विश्वास जताते हुए कहा कि इसका लक्ष्य ओडिशा में 2.25 करोड़ महिलाओं को आर्थिक रूप से अधिकार संपन्न और आत्मनिर्भर बनाना है. सैनिटरी नैपकिन के उपयोग को एक जन आंदोलन बनाने की आवश्यकता पर जोर देते हुए उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण (एफएफएचएस) के अनुसार, ओडिशा में केवल 33.5 प्रतिशत महिलाएं ही सैनिटरी नैपकिन का इस्तेमाल करती हैं.

(इनपुट-भाषा)

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.