close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

उमर अब्दुल्ला ने सुबह कहा था- कर्नाटक तुम भी? शाम होते-होते कुछ ऐसे बदल गए सुर

रुझानों में बीजेपी को कर्नाटक विधानसभा चुनावों में बढ़त मिलने के बाद जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने जो ट्वीट किया था अब उसके तेवर बदल गए हैं.

उमर अब्दुल्ला ने सुबह कहा था- कर्नाटक तुम भी? शाम होते-होते कुछ ऐसे बदल गए सुर
कर्नाटक विधानसभा चुनाव मतगणना के साथ बदले उमर अब्दुल्ला के ट्वीट (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: कर्नाटक विधानसभा चुनाव मतगणना में वोटों की गिनती जारी है. सुबह आए रुझानों में बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बनकर तो उभर रही थी, लेकिन शाम होते-होते जैसे ही नतीजे सामने आने लगे तो भाजपा बहुमत से पिछड़ती हुई दिखाई दे रही है. रुझानों के मुताबिक, कर्नाटक में बीजेपी ने बहुमत का आंकड़ा छू लिया था, लेकिन नतीजे आते-आते अब बीजेपी की बाजी पलटती हुई नजर आने लगी है. इधर, बीजेपी को बहुमत ना मिलता देख कांग्रेस ने भी अपना आखिरी दांव चल दिया है. कांग्रेस और जेडीएस भी एक साथ मिलकर सरकार बनाने की तैयारी कर रहे हैं. 

ऐसे में नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला के सुर भी बदलते हुए दिखाई दे रहे हैं. रुझानों में बीजेपी को कर्नाटक विधानसभा चुनावों में बढ़त मिलने के बाद जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने जो ट्वीट किया था अब उसके तेवर बदल गए हैं. कर्नाटक में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को सत्ता में आने से रोकने के लिए कांग्रेस ने जेडीएस के नेता एचडी कुमारस्वामी को मुख्यमंत्री का पद ऑफर करते हुए उन्हें समर्थन देने का ऐलान कर दिया है.

कांग्रेस के इस ऐलान के बाद उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट किया कि- अभी खेल खत्म नहीं हुआ है (It’s not over till someone sings #Karnataka) 

बता दें कि उमर अब्दुल्ला ने विलियम शेक्सपीयर द्वारा नाटक ‘जूलियस सीजर ’ में विश्वासघात का भाव जताने के लिए इस्तेमाल की गई लैटिन कहावत का इस्तेमाल कर्नाटक चुनाव के नतीजों पर आश्चर्य प्रकट करने के लिए किया था. कर्नाटक में विधानसभा चुनावों की मतगणना के रूझानों में भाजपा जब सबसे बड़े दल के तौर पर उभरती नजर आई तो उमर ने ट्वीट किया, ‘‘एट तू # कर्नाटक’’.  

‘एट तू ’ लैटिन मुहावरा है जिसका अर्थ है ‘‘तुम भी’’. नाटक में रोमन तानाशाह जूलियस सीजर की जब उसके दोस्त मार्कस जुनियस ब्रूटस और अन्य साजिशकर्ताओं द्वारा हत्या की गई तो सीजर के आखिरी शब्द थे ‘‘एट तू ब्रूट, देन फॉल सीजर’’. 

उमर ने चुनावों में अपनी हार के लिए ईवीएम को दोष देने के लिये कांग्रेस नेताओं पर भी निशाना साधा. जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री ने कटाक्ष करते हुए कहा, ‘‘कृपया इस ट्वीट को भविष्य के संदर्भ के लिए सुरक्षित रखें. अगर मैं जीता तो यह मेरा करिश्मा और कड़ी मेहनत थी. और अगर मैं हारता हूं तो इसके लिए वो ईवीएम जिम्मेदार हैं.’’

इसके साथ ही कांग्रेस के जेडीएस को समर्थन देने के फैसले के बाद सोशल मीडिया पर कांग्रेस की आलोचना होने लगी. यूजर्स ने कांग्रेस को ट्रोल करना शुरू किया. सोशल मीडिया पर आलोचकों को जवाब देते हुए उमर अब्दुल्ला ने लिखा- कांग्रेस सरकार बनाने के लिए जेडीएस को सपोर्ट करे या नहीं, उनकी इस कोशिश की आलोचना नहीं की जानी चाहिए. बीजेपी भी यही करती, अगर वह कांग्रेस वाली स्थिति में होती.

रुझानों में हार मिलती देख कांग्रेस पार्टी मुख्यालय में पसरा सन्नाटा 
कर्नाटक विधानसभा चुनाव के नतीजे वाले दिन कांग्रेस के अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद के साथ पार्टी मुख्यालय पहुंचे कार्यकर्ताओं में उस वक्त उदासी छा गई थी, जब चुनाव परिणाम भाजपा के पक्ष में जाते दिखाई दिए. दिल्ली के कई इलाकों से 24 अकबर रोड पहुंचे कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पार्टी के अच्छे प्रदर्शन की प्रार्थना करते हुए सुबह मुख्यालय के सामने हवन भी किया था.

चुनाव नतीजों की जिस तरह से तस्वीर साफ होती गई और कांग्रेस हार की तरफ बढ़ती हुई दिखाई दी तो पार्टी कार्यकर्ताओं का जोश भी ठंडा पड़ता गया. पार्टी के एक पदाधिकारी ने बताया कि सुबह कांग्रेस के कई कार्यकर्ता मुख्यालय पहुंचे थे, लेकिन नतीजे उम्मीद के मुताबिक नहीं रहने की वजह से वे निराश हो गए, जोकि स्वाभाविक है.

रुझानों में बढ़त मिलती देख भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच जश्न का माहौल
कर्नाटक विधानसभा चुनाव के रुझानों में भाजपा को जीत की ओर बढ़ता देख पूरे राज्य में भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच जश्न का माहौल बन गया. राज्य में 12 मई को हुए चुनाव के लिए आज सुबह 38 केंद्रों पर मतगणना शुरू हुई थी. भाजपा मुख्यालय पर और कलबुर्गी, हुबली-धारवाड़, मेंगलुरू और शिमोगा समेत पूरे कर्नाटक में पार्टी कार्यालयों में एकत्र हुए पार्टी कार्यकर्ताओं और समर्थकों के बीच मिठाईयां बांटी गई. 

जैसे-जैसे परिणाम आते गए भाजपा कार्यकर्ताओं का उत्साह बढ़ता गया. रुझानों में भाजपा ने बढ़त जारी रखी है और सत्तारूढ़ कांग्रेस पिछड़ती दिख रही है. पार्टी कार्यकर्ता ‘‘भारत माता की जय’’, ‘‘नरेंद्र मोदी की जय’’ और ‘‘भाजपा की जय’’ जैसे नारे लगा रहे थे.