close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

नेशनल कांफ्रेस नेता उमर अब्दुल्ला का छल्का दर्द, 'ओह! कर्नाटक तुम भी'

बीजेपी को कर्नाटक विधानसभा चुनावों में बढ़त मिलने के बाद जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला का दर्द छलक आया है. 

नेशनल कांफ्रेस नेता उमर अब्दुल्ला का छल्का दर्द, 'ओह! कर्नाटक तुम भी'
कर्नाटक विधानसभा चुनाव मतगणना के बीच उमर अबदुल्ला का ट्वीट (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए मंगलवार (15 मई) को हो रही मतगणना में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सत्तारुढ़ कांग्रेस को पछाड़ते हुए रुझानों में आगे बढ़ गई है. कर्नाटक विधानसभा की 224 सीटों में से 222 सीटों के लिए 12 मई को हुई वोटिंग के नतीजे आना शुरू हो गए हैं. रुझानों में बीजेपी को बहुमत मिल गया है. अब तक आए रुझानों में बीजेपी 120 सीटों से आगे चल रही है. बीजेपी की बढ़त पर कार्यकर्ताओं ने खुशी मनानी शुरू कर दी हैं, तो वहीं कांग्रेसी नेता गठबंधन के लिए तैयार हैं. 

बीजेपी को कर्नाटक विधानसभा चुनावों में बढ़त मिलने के बाद जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला का दर्द छलक आया है. उमर अब्दुल्ला ने रुझानों में बीजेपी को बहुमत मिलने के बाद ट्वीट किया है. 

उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट किया है- Et tu. बता दें कि Et tu शेक्सपियर के लोकप्रिय नाटक जूलियस सीजर की एक Phrase है, जिसका अर्थ है- तुम भी? शेक्सपियर के इस नाटक में जब जूलियस सीजर का सबसे विश्वसनीय दोस्त ब्रूटस उसकी जान लेने के लिए छुरी घोंप रहा था तब सीजर के मुंह से निकला था- “और तुम भी ब्रूटस?” 

उमर अब्दुल्ला ने भी शेक्सपियर के जूलियस सीजर के इसी Phrase का इस्तेमाल करते हुए ट्वीट किया- 'ओह! कर्नाटक तुम भी'? 

बता दें कि राज्य में किसी भी पार्टी को सरकार बनाने के लिए 113 सीटों की जरुरत है और रुझानों के मुताबिक, 120 सीटों के साथ बहुमत में है. जैसे-जैसे मतगणना आगे बढ़ रही है, भाजपा नेता राज्य में पार्टी की जीत को लेकर आश्वस्त होते जा रहे हैं. भाजपा नेताओं का कहना है कि वे राज्य में सत्ता पर काबिज होने को लेकर आश्वस्त हैं. कांग्रेस के नेताओं ने इन रुझानों को देखकर जेडीएस के साथ गठबंधन की संभावनाओं के बारे में बात करना शुरू कर दिया है. 

भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री सदानंद गौड़ा ने कहा कि जेडीएस के साथ गठबंधन का सवाल ही नहीं उठता क्योंकि उनकी पार्टी स्पष्ट बहुमत की ओर बढ़ रही है. केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने नई दिल्ली में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात की.

विश्लेषकों का कहना है कि भाजपा लिंगायत प्रभुत्व वाली सीटों पर आगे चल रही है जबकि जेडीएस वोक्कालिगा प्रभुत्व वाली सीटों पर आगे चल रही है. मुख्यमंत्री सिद्धारमैया बदामी सीट पर आगे चल रहे हैं जबकि चामुंडेश्वरी सीट पर पीछे चल रहे हैं. 

(आईएनएन इनपुट के साथ)