सर्दियों में स्किन पर पड़ते हैं ऐसे निशान? इन आसान उपायों से दूर होगी प्रॉब्लम
X

सर्दियों में स्किन पर पड़ते हैं ऐसे निशान? इन आसान उपायों से दूर होगी प्रॉब्लम

Winter Skin Problems: विंटर्स में त्वचा संबंधी समस्याएं होना आम बात है. लेकिन विंटर्स में जब स्किन पर रैशेज पड़ने लगें तो आपको सावधान हो जाना चाहिए. आइए जानें सर्दियों में क्यों पड़ते हैं त्वचा पर रैशेज (Winter Rash).

सर्दियों में स्किन पर पड़ते हैं ऐसे निशान? इन आसान उपायों से दूर होगी प्रॉब्लम

नई दिल्ली: Winter Rash Risk Factors: सर्दियां त्वचा को कई तरह से नुकसान पहुंचा सकती है. दरअसल, ठंडे तापमान और हवा में त्वचा की नमी चली जाती है जिससे त्वचा शुष्क हो जाती है. विंटर रैश भी सर्दियों में होने वाली एक ऐसी समस्या है जो स्किन को बहुत ज्यादा नुकसान पहुंचाती है. आज हम आपको बताएंगे त्वचा में रैशज पड़ने के कारण और उससे होने वाले नुकसानों के बारे में. 

स्किन रैशेज पड़ने का कारण

त्वचा पर रैशेज पड़ना कई कारकों पर निर्भर करता है और ठंडा तापमान उनमें से एक है. हमारी त्वचा में नैचुरल ऑयल होता है जो इसे मॉइस्चराइज रखने में मदद करता है. लेकिन सर्दियों के मौसम में ठंडे तापमान के कारण त्वचा की नमी चली जाती है, जिससे खुजली के कारण त्वचा पर रैशेज हो जाते हैं.

सर्दियों में साबुन का अधिक इस्तेमाल या हार्ड साबुन का इस्तेमाल, स्ट्रेस लेना, कोई इंफेक्शन, दवाओं के कारण, तेज गर्म पानी से नहाना, रूम हीटर का अधिक इस्तेमाल या लेटेक्स एलर्जी ये सभी सर्दियों में स्किन रैशेज के कारण हैं. 

ये भी पढ़ें :- माइग्रेन से मिलेगा छुटकारा, डाइट में जरूर शामिल करें ये चीजें

विंटर स्किन रैश के लक्षण

स्किन में ड्राईनेस के अलावा पैचेस, ईचिंग, जलन, दरारें पड़ना और स्किन सेंसेशन होना सभी विंटर रैशेस के लक्षण हैं. ये रेशेज किसी को भी हो सकते हैं. 

विंटर स्किन रैशेज होने पर खतरा

रैशेज आने पर सूजन की समस्या होना, इम्यूनो डेफिशिएंसी की स्थिति होना, डिहाइड्रेशन होना, त्वचा का बहुत ज्यादा संवेदनशील त्वचा हो जाना, अस्थमा जैसी सांस की समस्या होना सभी स्किन विंटर रैशेज के लक्षण हैं. 

ये भी पढ़ें :- मूंगफली को यूं ही नहीं कहा जाता 'गरीबों का बादाम', खाने से मिलेंगे गजब के फायदे

विंटर रैशेज से होने हो सकती हैं ये गंभीर बीमारियां

विंटर स्किन रैशेज के कारण सोरायसिस, एक्जिमा, रोसैसिया, जिल्द की सूजन और अन्य कई स्किन इंफेक्शन हो सकते हैं. 

विंटर स्किन रैशेज का ट्रीटमेंट

- विंटर स्किन रैशेज का इलाज करने का सबसे अच्छा तरीका स्किन को नमीयुक्त रखना है.
- कुछ ओवर-द-काउंटर क्रीम जिनमें लैक्टिक एसिड होता है, त्वचा को प्रभावी रूप से ठीक कर सकती हैं.
- नहाने के बाद तुरंत मॉइस्चराइजर लगाएं, जिसमें इसे दिन में कई बार लगा सकते हैं.
- नैचुरल ऑयल जैसे नारियल का तेल भी अच्छा ऑप्शन है.
- हर्बल प्रोडक्ट और हर्बल साबुन का उपयोग करें.
- तेज हीटर का उपयोग करने से बचें.
- घर में नमी बनाए रखने के लिए ह्यूमिडिफायर का इस्तेमाल करें. 
- भरपूर मात्रा में पानी पीएं और शरीर को हाइड्रेट रखें.
- लंबे समय तक धूप में रहने से बचें.

ये भी पढ़ें :- एक साथ लीजिए कैम्पिंग और एडवेंचर का मजा, टूर के लिए ये जगह हैं परफेक्ट

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी घरेलू नुस्खों और सामान्य जानकारियों पर आधारित है. इसे अपनाने से पहले चिकित्सीय सलाह जरूर लें. ZEE NEWS इसकी पुष्टि नहीं करता है.)

Trending news