BREAKING NEWS

अमरोहा: कंवर सिंह तंवर का आरोप, बुर्के की आड़ में हो रही है फर्जी वोटिंग, BSP नेता ने दिया जवाब

बीएसपी नेता औप महागठबंधन प्रत्याशी दानिश अली ने कहा कि मुजफ्फरनगर के बाद अब अमरोहा में बीजेपी के ही प्रत्याशी फर्जी वोटिंग की बात कर रहे हैं, क्योंकि वह समझ चुके हैं कि हार निश्चित है. 

अमरोहा: कंवर सिंह तंवर का आरोप, बुर्के की आड़ में हो रही है फर्जी वोटिंग, BSP नेता ने दिया जवाब
बीजेपी प्रत्याशी कंवर सिंह तंवर और बीएसपी नेता दानिश अली.
Play

अमरोहा: लोकसभा चुनाव 2019 का दूसरे चरण का मतदान हो रहा है. यूपी के 8 लोकसभा सीटों पर मतदान हो रहा है. यूपी की अमरोहा लोकसभा सीट से बीजेपी प्रत्याशी कंवर सिंह तंवर ने अपना वोट डाला और ये आरोप लगाया कि मुस्लिम वोटर बुर्के की आड़ में फर्जी वोटिंग कर रहे हैं. बीजेपी प्रत्याशी के इस आरोप के बाद बीएसपी नेता औप महागठबंधन प्रत्याशी दानिश अली ने पलटवार किया. 

ये बोले बीजेपी प्रत्याशी
बीजेपी प्रत्याशी कंवर सिंह तंवर ने गुरुवार को मतदान के दूसरे चरण में अपना वोट डाला. उन्होंने मतदान के बाद मीडिया से बातचीत में कंवर सिंह तंवर ने कहा कि देश की जनता ने ठाना है नरेंद्र मोदी को दोबारा प्रधानमंत्री बनाना है. उन्होंने कहा कि लोगों में बहुत उत्साह है. लोग सुबह-सुबह ही लाइनों में लग गए हैं और विकास पर लोग वोट डालेंगे. उन्होंने कहा कि अमरोहा में विकास के काम बहुत हुए हैं. लोगों का विकास हुआ है. लेकिन उन्होंने ये आरोप लगाया कि मुस्लिम वोटर बुर्के की आड़ में फर्जी वोटिंग कर रहे हैं.

 

दानिश अली ने दिया जवाब
बीएसपी नेता औप महागठबंधन प्रत्याशी दानिश अली ने कहा कि मुजफ्फरनगर के बाद अब अमरोहा में बीजेपी के ही प्रत्याशी फर्जी वोटिंग की बात कर रहे हैं. लेकिन सच ये है कि बीजेपी ये जानती है कि 2019 में उसका रास्ता साफ हो चुका है, इसलिए बुर्का और मंदिर मस्जिद की आड़ ले रही है. उन्होंने कहा कि जिस तरह का माहौल नजर आ रहा है, वह साफ करता है कि ये सीट बसपा जितने जा रही है. 

त्रिकोणीय है मुकाबला
आपको बता दें कंवर सिंह तंवर अमरोहा से मौजूदा सांसद हैं. उनका मुकाबला गठबंधन के तहत बीएसपी के कुंवर दानिश अली और कांग्रेस के सचिन चौधरी से है. इस सीट पर मुकाबला त्रिकोणीय माना जा रहा है.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.