close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

गुवाहाटी में धमाका, घायलों में 1 बच्चे की हालत नाजुक; इस आतंकी संगठन ने ली जिम्मेदारी

गुवाहटी में बुधवार शाम तक़रीबन 8 बजकर 5 मिनट में दिसपुर से महज एक किलोमीटर की दूरी पर ज़ू रोड पर स्थित सेंट्रल मॉल के सामने मोटर साइकिल पर सवार अज्ञात आतंकवादियों ने ग्रेनेड ब्लास्ट कर दिया. धमाके में 10 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए.

गुवाहाटी में धमाका, घायलों में 1 बच्चे की हालत नाजुक; इस आतंकी संगठन ने ली जिम्मेदारी
पांच घायलों को गुवाहाटी मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल में नाजुक हालत में भर्ती कराया गया है.

गुवाहाटी : गुवाहटी में बुधवार शाम तक़रीबन 8 बजकर 5 मिनट में दिसपुर से महज एक किलोमीटर की दूरी पर ज़ू रोड पर स्थित सेंट्रल मॉल के सामने मोटर साइकिल पर सवार अज्ञात आतंकवादियों ने ग्रेनेड ब्लास्ट कर दिया. धमाके में 10 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए. इनमें दो एसएसबी के जवान और आठ स्थानीय निवासी शामिल हैं. पांच घायलों को  गुवाहाटी मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल में नाजुक हालत में भर्ती कराया गया है. अन्य पांच को पास के एक प्राइवेट हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है. 

सूचना के मुताबिक, उल्फा स्वाधीन आतंकवादी संगठन ने इस ब्लास्ट की जिम्मेदारी ली है. इस ग्रेनेड बम ब्लास्ट से सुरक्षा पर तैनात एसएसबी के दो जवान 48 वर्षीय रमेश लाल और 30 वर्षीय अमूल्य लालन गंभीर रूप से घायल हुए हैं. आठ अन्य घायलों में एक बच्चा भी है जिसकी पहचान अभी नहीं हो पाई है. सभी घयलों को नाजुक हालत में गुवाहाटी मेडिकल कॉलेज अस्पताल भर्ती कराया गया है. 

इस बीच, असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने इस घटना की निंदा करते हुए डीजीपी को तुरंत जांच के आदेश दिए और दोषी आतंकवादियों को तुरंत पकड़ने के निर्देश दिए. गुवाहाटी के ज़ू रोड स्तिथ सेंट्रल मॉल के सामने नियमित वाहनों की जांच के लिए पुलिस चेक पोस्ट हमेशा तैनात रहता है.

 

असम पुलिस के साथ इस चेक पोस्ट पर एसएसबी के जवान भी तैनात रहते हैं. पुलिस के अनुसार उल्फा स्वाधीन आतंकवादी संगठन ने एसएसबी को सीआरपीएफ सोच कर टारगेट किया था. उल्फा स्वाधीन के दोनों आतंकवादी मोटर साइकिल पे सवार थे और स्थानीय लोगों के अनुसार दोनों का चेहरा हेमलेट से ढका हुआ था और ग्रेनेड फेंक मौके से तुरंत फरार हो गए.

गुवाहाटी के प्रसिद्ध मां कामाख्या मंदिर में हर साल की तरह अम्बुबाची मेला कुछ ही दिनों में आरंभ होने वाला है. पुलिस ने मेला को नजर में रखते हुए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम भी करना शुरू कर दिया था लेकिन इस बीच घटी इस घटना से गुवाहाटीवासियों में दहशत छा गई है. बता दें शुरुआत में दो लोगो की मौके पर मौत बताई गई थी, पर ये दोनों एसएसबी के जवानों की अभी भी बेहद नाजुक हालत बनी हुई है. गुवाहाटी मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल में आईसीयू में इलाज जारी है. प्रसाशन ने गुवाहटी में रेड अलर्ट घोषित कर दिया है. नाकाबंदी कर आतंकवादी दोनों को पकड़ने की कवायद तेज़ कर दी है.