साध्‍वी प्रज्ञा के नाथूराम गोडसे पर दिए बयान से सहमत नहीं, माफी मांगें: BJP

बीजेपी प्रवक्‍ता जीवीएल नरसिम्‍हा राव ने कहा कि बीजेपी उनके बयान से सहमत नहीं है. हम इसकी निंदा करते हैं. पार्टी उनसे स्‍पष्‍टीकरण मांगेगी. साध्‍वी प्रज्ञा को सार्वजनिक रूप से अपने बयान के लिए माफी मांगनी चाहिए.

साध्‍वी प्रज्ञा के नाथूराम गोडसे पर दिए बयान से सहमत नहीं, माफी मांगें: BJP
बीजेपी प्रवक्‍ता जीवीएल नरसिम्‍हा राव

नई दिल्‍ली: भोपाल से बीजेपी प्रत्‍याशी साध्‍वी प्रज्ञा ठाकुर के नाथूराम गोडसे के देशभक्‍त संबंधी बयान से बीजेपी सहमत नहीं है. बीजेपी प्रवक्‍ता जीवीएल नरसिम्‍हा राव ने कहा कि बीजेपी उनके बयान से सहमत नहीं है. हम इसकी निंदा करते हैं. पार्टी उनसे स्‍पष्‍टीकरण मांगेगी. साध्‍वी प्रज्ञा को सार्वजनिक रूप से अपने बयान के लिए माफी मांगनी चाहिए.

दरअसल नाथूराम गोडसे पर कमल हासन के विवादित बयान के बाद चली रही बहस के बीच भोपाल से बीजेपी प्रत्‍याशी प्रज्ञा ठाकुर ने कहा है कि नाथूराम गोडसे देश भक्त थे, हैं और रहेंगे. उनको ऐसा बोलने वाले लोग स्वयं की गिरेबान में झांक कर देखें. ऐसा बोलने वालों को इस चुनाव में जवाब दे दिया जाएगा.

VIDEO- नाथूराम गोडसे देशभक्‍त थे, हैं और रहेंगे: साध्‍वी प्रज्ञा ठाकुर

उल्‍लेखनीय है कि मक्कल नीधि मैयम (एमएनएम) के संस्थापक कमल हासन ने यह कहकर नया विवाद खड़ा कर दिया है कि आजाद भारत का पहला ‘‘आतंकवादी हिन्दू’’ था. वह महात्मा गांधी की हत्या करने वाले, नाथूराम गोडसे के संदर्भ में बात कर रहे थे. रविवार की रात एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए हासन ने कहा कि वह एक ऐसे स्वाभिमानी भारतीय हैं जो समानता वाला भारत चाहते हैं.

आजाद भारत का पहला आतंकवादी हिन्दू था और उसका नाम नाथूराम गोडसे है: कमल हासन

उन्होंने कहा, ‘‘मैं ऐसा इसलिए नहीं बोल रहा हूं कि यह मुसलमान बहुल इलाका है, बल्कि मैं यह बात गांधी की प्रतिमा के सामने बोल रहा हूं. आजाद भारत का पहला आतंकवादी हिन्दू था और उसका नाम नाथूराम गोडसे है. वहीं से इसकी (आतंकवाद) शुरुआत हुई.’’ महात्मा गांधी की 1948 में हुई हत्या का हवाला देते हुए हासन ने कहा कि वह उस हत्या का जवाब खोजने आये हैं.