बाजार पर छाया चुनावी खुमार, लोगों को भा रही 'मैं भी चौकीदार टी-शर्ट' और 'प्रियंका साड़ी'

चुनावी बाजार राजनीतिक दलों के गुब्बारे, बटन, बैनर्स, साड़ियां और टी-शर्ट जैसी तमाम चीजें लेकर हाजिर हो गया है.

बाजार पर छाया चुनावी खुमार, लोगों को भा रही 'मैं भी चौकीदार टी-शर्ट' और 'प्रियंका साड़ी'
लोगों के बीच पसंद की जा रही है 'मैं भी चौकीदार' टीशर्ट. फाइल फोटो

नई दिल्ली : जिस पार्टी को आप दिल से चाहते हैं तो उसके चिह्न और झंडे को आप अपने बाजू या सीने पर पहन सकते हैं या फिर उसे बदन पर लपेट सकते हैं. बस इसके लिए आपको अपनी जेब कुछ ढीली करनी होगी और चुनावी बाजार गुब्बारे, बटन, बैनर्स, साड़ियां और टी-शर्ट जैसी तमाम चीजें लेकर हाजिर हो जाएगा.

गुरुवार को लोकसभा चुनाव 2019 के पहले चरण का आगाज हो गया और सभी राजनीतिक दल समर्थकों और संभावित मतदाताओं को अपनी ओर खींचने का प्रयास कर रहे हैं. बीजेपी ‘मैं भी चौकीदार’ नारा छपी टी-शर्ट्स, आम आदमी पार्टी की टोपियां, नरेंद्र मोदी और प्रियंका गांधी वाड्रा साड़ियां भी बाजार की शोभा में चार चांद लगा रही हैं.

 

यह बाजार न केवल पार्टी दफ्तर के बाहर लगा हुआ है बल्कि इस सामग्री को अमेजन और स्नैपडील जैसे ई-प्लेटफार्मों पर भी खरीदा जा सकता है. पर अगर इससे भी काम न बने तो दिल्ली का सदाबहार थोक मार्केट सदर बाजार तो है ही. स्नैपडील प्रवक्ता ने पीटीआई-भाषा को बताया, ‘‘हम सभी राजनीतिक दलों के समर्थकों का उत्साह देख रहे हैं. पूरे भारत में साड़ियों से लेकर टीशर्ट, पावर बैंक्स, यूएसबी ड्राइव्स, पोस्टरों से लेकर कॉफी मग तक खरीदे जा रहे हैं.’’


दिल्‍ली के बाजार में लोगों के लिए चुनाव सामग्रियां आ गई हैैं. फोटो PTI

उन्होंने बताया कि कारों और मोटरसाइकिलों पर लगने वाले स्टिकर सर्वाधिक लोकप्रिय हैं. टी-शर्ट, टोपी, पानी की बोतलें, चाबी के गुच्छों की सबसे अधिक मांग आंध्रप्रदेश, तमिलनाडु, महाराष्ट्र और गुजरात से आ रही है. 

सभी मुख्य राजनीतिक दलों के झंडों की मांग बनी हुई है. इनमें भाजपा और कांग्रेस जैसे राष्ट्रीय दल तो आप व समाजवादी पार्टी जैसे स्थानीय दल भी शामिल है. सदर बाजार के चुनावी सामग्री विक्रेता चमन भाई ने बताया, ‘‘अभी ‘मैं भी चौकीदार’ की हवा है बस, और कुछ नहीं. इस नाम को लेकर बनीं टीशर्ट, टोपियां और बैज तो हवा लगते ही बिक जाते हैं.’’ 

उन्होंने कहा कि पार्टी कार्यकर्ता और प्रत्याशी तो थोक में खरीदते हैं पर साथ में आम समर्थक भी इनकी खरीदारी कर रहा है. कांग्रेस की चुनाव सामग्री बेचने वाले लोकेश कुमार की पार्टी कार्यालय अकबर रोड पर दुकान है. वह बताते हैं कि प्रियंका साड़ी का स्टॉक रोज खत्म हो जाता है. इससे पता चलता है कि लोग बड़ी संख्या में कांग्रेस की प्रचार सामग्री खरीद रहे हैं. कुल 400 रूपये की कीमत वाली इस साड़ी पर प्रियंका गांधी, इंदिरा गांधी का फोटो और कांग्रेस का चिंह अंकित है. 

भाजपा ने पांच मिनी ट्रक तैयार किए हैं जिन्हें ‘नमो रथ’ का नाम दिया गया है. ये जल्द ही सड़क पर उतारे जाएंगे. भाजपा के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य मनोज गोयल ने पीटीआई-भाषा को बताया कि ये रथ अभी भाजपा मुख्यालय में है और इन्हें लेकर चुनाव आयोग से बात चल रही है. आम चुनाव 11 अप्रैल से लेकर 19 मई तक सात चरणों में होंगे और मतों की गणना 23 मई को होगी.