close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

टिकट पर सस्पेंस के बीच उदित राज बोले, 'BJP अध्यक्ष अमित शाह नहीं उठा रहे मेरा फोन'

उदित राज ने ट्वीट कर लिखा कि मैंने अपनी पार्टी का भाजपा में विलय कर दिया था. मेरे करोड़ों समर्थक मेरे टिकट को लेकर चिंतित हैं. 

टिकट पर सस्पेंस के बीच उदित राज बोले, 'BJP अध्यक्ष अमित शाह नहीं उठा रहे मेरा फोन'
फोटो सौजन्य: Facebook

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Elections 2019) के लिए अपना टिकट कटने की आशंकाओं के बीच उत्तर पश्चिम दिल्ली सुरक्षित लोकसभा सीट से मौजूदा भाजपा सांसद उदित राज ने सोमवार को अपनी पार्टी से उम्मीदवारी को लेकर बरकरार संशय समाप्त करने को कहा. उदित राज ने ट्वीट में लिखा कि उन्हें भरोसा है कि भाजपा देश में दलितों के साथ विश्वासघात नहीं करेगी. भाजपा ने दिल्ली की चार लोकसभा सीटों पर उम्मीदवारों के नाम का ऐलान कर दिया है, वहीं उत्तर पश्चिम दिल्ली समेत तीन सीटों पर नामों की घोषणा अभी बाकी है.

राज ने ट्वीट किया, ‘‘मैंने अपनी पार्टी का भाजपा में विलय कर दिया था. मेरे करोड़ों समर्थक मेरे टिकट को लेकर चिंतित हैं. अभी तक उत्तर पश्चिम दिल्ली सीट से मेरे नाम की घोषणा नहीं की गयी है. मेरे समर्थकों ने आज शाम 4 बजे तक इंतजार करने का फैसला किया है.’’ राज ने अपनी इंडियन जस्टिस पार्टी (आईजेपी) का भाजपा में विलय कर दिया था. 2014 में वह भाजपा के टिकट पर उत्तर पश्चिम दिल्ली से चुनाव लड़े थे और जीते थे.

उन्होंने एक ट्वीट किया, ‘‘मैंने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से कई बार बात करने की कोशिश की और उन्हें एसएमएस भी भेजा. मैंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी बात करने की कोशिश की.’’ राज ने कहा कि दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी उनसे कह रहे थे कि उन्हें उत्तर पश्चिम दिल्ली से टिकट मिलेगा. उन्होंने इस संबंध में वरिष्ठ पार्टी नेता अरुण जेटली और निर्मला सीतारमण से भी संपर्क करने का दावा किया.