सरदार पटेल की प्रतिमा बनवाने का मकसद नेहरू का अनादर करना नहीं: PM मोदी

सरदार पटेल की प्रतिमा बनवाने का मकसद नेहरू का अनादर करना नहीं: PM मोदी

पीएम मोदी ने यहां एक चुनावी रैली में कहा कि हालांकि कांग्रेस कहती है कि पटेल उनके नेता हैं, लेकिन पार्टी का कोई नेता अभी तक प्रतिमा देखने नहीं आया.

सरदार पटेल की प्रतिमा बनवाने का मकसद नेहरू का अनादर करना नहीं: PM मोदी

अमरेली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बृहस्पतिवार को कहा कि गुजरात में सरदार वल्लभभाई पटेल की भव्य प्रतिमा पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू का ‘‘अनादर करने’’ के लिए नहीं बनाई गई है. पीएम मोदी ने यहां एक चुनावी रैली में कहा कि हालांकि कांग्रेस कहती है कि पटेल उनके नेता हैं, लेकिन पार्टी का कोई नेता अभी तक प्रतिमा देखने नहीं आया.

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी
मोदी ने अपने भाषण में कहा, ‘‘जब आप गूगल पर दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा खोजते हैं, तब स्टैच्यू ऑफ यूनिटी और गुजरात का नाम सामने आने पर क्या आपको गर्व महसूस नहीं होता.’’ मोदी ने अधिकतर भाषण गुजराती में दिया. उन्होंने कहा, ‘‘मैंने पंडित नेहरू का अनादर करने के लिए सरदार पटेल की प्रतिमा नहीं बनवाई. पटेल का कद इतना ऊंचा है कि आपको दूसरों को उनसे छोटा दिखाने के लिए बहुत ज्यादा कोशिश करने की जरूरत ही नहीं है.’’

सरकार आतंकवाद को कश्मीर के केवल 'ढाई' जिलों तक सीमित करने में कामयाब रही: PM मोदी

मोदी ने नर्मदा नदी पर साधु बेट द्वीप में सरदार पटेल को समर्पित ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ का पिछले साल 31 अक्टूबर को अनावरण किया था. 2,389 करोड़ रुपए की लागत से निर्मित यह प्रतिमा 182 मीटर ऊंची है. प्रधानमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने आतंकवाद को जम्मू-कश्मीर के केवल ‘‘ढाई’’ जिलों तक सीमित कर दिया है और देश के किसी अन्य हिस्से में पिछले पांच साल में कोई बम विस्फोट नहीं हुआ.

पीएम मोदी ने कहा कि उन्होंने गुजरात में जो कुछ सीखा, उससे उन्हें 2017 में चीन के साथ डोकलाम गतिरोध के दौरान मदद मिली. भारत ने चीनी बलों को डोकलाम में सड़क निर्माण से रोक दिया था जिसके बाद दोनों देशों के बलों के बीच 73 दिन गतिरोध की स्थिति बनी रही थी. मोदी ने कहा ‘‘मेरे लिये यह चुनावी रैली नहीं है बल्कि यहां जो कुछ मैने सीखा उसके लिए गुजरात के लोगों को धन्यवाद कहने की खातिर यह रैली है.’’

देश में पहले हुईं बम विस्फोट की विभिन्न घटनाओं का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘देश के किसी अन्य हिस्से में पिछले पांच वर्ष में कोई बम विस्फोट नहीं हुआ. हमने आतंकवाद को जम्मू-कश्मीर के केवल ढाई जिलों तक सीमित कर दिया है.’’

बालाकोट हवाई हमला
बालाकोट हवाई हमले के बाद भारत से संपर्क साधने की कोशिश संबंधी पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के बयान पर मोदी ने कहा कि नेता को ‘‘फोन उठाने के लिए हमसे सार्वजनिक रूप से अनुरोध करना पड़ा’’. उन्होंने देश में कांग्रेस नीत पूर्ववर्ती सरकारों पर निशाना साधते हुए कहा कि सरदार सरोवर परियोजना 40 वर्ष पहले ही पूरी हो जानी चाहिए थी. मोदी ने कहा कि कांग्रेस को 2014 में आजादी के बाद सबसे कम सीटों पर जीत मिली और 2019 में वह सबसे कम लोकसभा सीटों पर लड़ रही है, लेकिन तब भी वह सत्तारूढ़ पार्टी बनने का ‘‘सपना देख’’ रही है.

Trending news