‘ओसामा पर किताब लिखने से गोपनीयता का उल्लंघन नहीं’

अमेरिकी नौसेना की शाखा सील के एक पूर्व सदस्य द्वारा पाकिस्तान में ओसामा बिन लादेन पर धावे के बारे में लिखी गई एक पुस्तक के बारे में लेखक के वकील ने कहा है कि इससे सूचनाओं का खुलासा नहीं करने के समझौते का उल्लंघन नहीं हुआ है।

वाशिंगटन : अमेरिकी नौसेना की शाखा सील के एक पूर्व सदस्य द्वारा पाकिस्तान में ओसामा बिन लादेन पर धावे के बारे में लिखी गई एक पुस्तक के बारे में लेखक के वकील ने कहा है कि इससे सूचनाओं का खुलासा नहीं करने के समझौते का उल्लंघन नहीं हुआ है। उन्होंने पेंटागन के इन आरोपों का खंडन किया कि लेखक ने गोपनीय सूचनाओं को लीक किया है।
लेखक के वकील राबर्ट लस्किन ने एक अमेरिकी रक्षा मंत्रालय को लिखे पत्र में कहा, उन्हें अपनी कहानी बताने का अधिकार है।
लस्किन ने रक्षा विभाग के जनरल काउंसिल जेह चार्ल्स जानसन को लिखे पत्र में कहा, मार्क ओवन (लेखक मेट बिसोनेट का साहित्यिक नाम) इस बात को लेकर विश्वस्त है कि उसने गोपनीय सूचनाओं का उल्लंघन नहीं करके अपने फर्ज को वफादारी से निभाया है।
वकील के इस इंकार से एक दिन पहले ही पेंटागन ने नौसेना सील के पूर्व कर्मी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की धमकी दी है।
बिसोनेट (36) ने अपनी पुस्तक में ‘नो ईजी डे’ अभियान का आंखों देखा वर्णन किया है। यह अभियान मई 2011 में पाकिस्तान के ऐबटाबाद में अल कायदा प्रमुख ओसामा बिन लादेन को मारने के लिए अंजाम दिया गया था। (एजेंसी)