close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

विज्ञान में अच्छा निवेश नहीं, यह मूखर्तापूर्ण है: राव

विज्ञान के लिए अपर्याप्त धन मुहैया कराने के लिए नेताओं की आलोचना करने के एक दिन बाद भारत रत्न के लिए चयनित वैज्ञानिक प्रो. सीएनआर राव ने सोमवार को कहा कि देश में विज्ञान में अच्छा निवेश नहीं है और यह थोड़ा मूखर्तापूर्ण है।

बेंगलुरु : विज्ञान के लिए अपर्याप्त धन मुहैया कराने के लिए नेताओं की आलोचना करने के एक दिन बाद भारत रत्न के लिए चयनित वैज्ञानिक प्रो. सीएनआर राव ने सोमवार को कहा कि देश में विज्ञान में अच्छा निवेश नहीं है और यह थोड़ा मूखर्तापूर्ण है।
कल के अपने बयान को स्पष्ट करने की कोशिश करते हुए राव ने संवाददाताओं से कहा कि हमारा निवेश अच्छा नहीं है और यह थोड़ा मूखर्तापूर्ण है। यही मैंने कहा कि मैंने गुस्से में नहीं कहा। मैं गुस्सैल व्यक्ति नहीं हूं, मैं कुछ चाहता था। दुर्भाग्य से, उन्होंने प्राथमिकता को नहीं समझा। यही मैंने कहा।
उन्होंने विज्ञान क्षेत्र को अपर्याप्त धन मुहैया कराए जाने पर अपने गुस्से का इजहार करते हुए कल कहा था कि क्यों इन मूर्खों, इन नेताओं ने हमारे लिए इतना थोड़ा दिया है। उसके बदलते में हम वैज्ञानिकों ने कुछ किया है। देश में वैज्ञानिक शोध के गिरते स्तर के बारे में पूछे जाने पर प्रधानमंत्री के वैज्ञानिक सलाहकार परिषद के अध्यक्ष राव ने कहा था कि सरकार ने विज्ञान क्षेत्र के लिए जो धन मुहैया कराया है, उसपर हमने काफी कुछ किया है।
राव ने आज कहा कि पहले, उन्हें विज्ञान के सापेक्षिक महत्व को समझना चाहिए, उन्हें हमारी जरूरतों के अनुपात में निवेश करना समझना चाहिए ताकि भारत चमके। उसके लिए हमें समझना होगा कि जरूरत क्या है। इसे नहीं समझा जा रहा है और यह मूखर्तापूर्ण स्थिति है और यही मेरा आशय था। (एजेंसी)