close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

OMG! सात फेरों की कस्में दिलाने वाला पंडित ही ले भागा दुल्हन, घरवाले बोले- हमारी तो...

पंडित पहले से विवाहित है और अपनी पत्नी से उसके दो बच्चे भी हैं. वहीं इस मामले के सामने आने के बाद हर कोई हैरान है और दुल्हन और पंडित की चर्चाओं में लगा है.

OMG! सात फेरों की कस्में दिलाने वाला पंडित ही ले भागा दुल्हन, घरवाले बोले- हमारी तो...
सांकेतिक तस्वीर

नई दिल्लीः मध्य प्रदेश के विदिशा के सिरोंज के टोरी बागरोद में एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. जहां एक दुल्हन शादी के 15 दिन बाद उसी पडिंत के साथ भाग गई, जिसने उसकी शादी कराई थी. दरअसल, 21 वर्षीय इस लड़की की शादी 15 दिन पहले ही गंजबासौदा के आसट गांव निवासी एक युवक से हुई थी. जिसमें टोरी बागरोद के पुरोहित ने सभी रस्में और प्रक्रियाएं कराई थी. शादी को कुछ ही दिन बीते थे कि नई-नवेली दुल्न ने घर से करीब डेढ़ लाख के जेवर और 30 हजार कैश अपने बैग में भरे और पंडित के साथ रफू-चक्कर हो गई.

वहीं सुबह युवती के घर में ने मिलने पर परिजन पुलिस के पास अपनी शिकायत लेकर पहुंचे और युवती की गुमशुदगी का मामला दर्ज कराया है. बता दें युवती जिस पंडित के साथ भागी है उसका नाम विनोद महाराज है और वह टोरी बागरोद में ही अपने परिवार के साथ रहता था. मिली जानकारी के मुताबिक पंडित पहले से विवाहित है और अपनी पत्नी से उसके दो बच्चे भी हैं. वहीं इस मामले के सामने आने के बाद हर कोई हैरान है और दुल्हन और पंडित की चर्चाओं में लगा है.

VIDEO: बेंगलुरु में पकड़ा दुर्लभ व्‍हाइट कोबरा, देखकर हैरत में पड़े लोग

वहीं कुछ ग्रामीणों का कहना है कि पंडित और युवती का काफी समय से प्रेम प्रसंग चल रहा था.  दरअसल, युवती शादी के तीन दिन बाद अपने मायके लौटी थी. इसी दौरान जब 23 मई को युवती के परिजन किसी शादी समारोह में शामिल होने गए थे, तभी युवती ने शादी कराने वाले पंडित विनोद महाराज के साथ फरार हो गई. परिजनों का आरोप है कि पंडित बहला-फुसलाकर उनकी लड़की को अपने साथ ले गया है.

गजब का जुगाड़: बाइक पर गाय बिठाकर ले जा रहा पाकिस्तानी, सोशल मीडिया पर उड़ा मजाक

ग्रामीणों ने बताया कि लड़की के परिजन जिस शादी में शामिल होने गए थे, उसमें भी फेरे कराने की जिम्मेदारी विनोद महाराज को ही सौंपी गई थी, लेकिन जब काफी देर तक पंडित नहीं पहुंचा तो किसी और पंडित को बुलाकर शादी की रस्में शुरू की गईं, लेकिन किसी को भी इसका अंदाजा नहीं था कि पंडित लड़की के साथ भाग निकली है.