पाकिस्‍तान का 'आतंकी चेहरा' फिर बेनकाब, अमेरिका ने अपने नागरिकों को पाक ना जाने को कहा

अमेरिका के विदेश मंत्रालय ने अपने ताजा यात्रा परामर्श में कहा, ‘‘आतंकवाद के कारण पाकिस्तान की यात्रा पर पुन: विचार करें.’’ 

पाकिस्‍तान का 'आतंकी चेहरा' फिर बेनकाब, अमेरिका ने अपने नागरिकों को पाक ना जाने को कहा
संघीय विमानन प्रशासन ने बुधवार को जारी एक नोटिस में कहा कि आतंकवादी समूह पाकिस्तान में संभावित हमलों की योजना बना रहे हैं.

वॉशिंगटन : अमेरिका ने मुख्य रूप से आतंकवाद और पाकिस्तान के भीतर या उसके समीप नागरिक विमानों को होने वाले खतरे के कारण अपने नागरिकों से एशियाई देश की यात्रा पर पुनर्विचार करने का अनुरोध किया है. संघीय विमानन प्रशासन ने बुधवार को जारी एक नोटिस में कहा कि आतंकवादी समूह पाकिस्तान में संभावित हमलों की योजना बना रहे हैं.

बलूचिस्तान, खैबर पख्तूनख्वा प्रांत की यात्रा न करने की सलाह
विदेश मंत्रालय ने अपने ताजा यात्रा परामर्श में कहा, ‘‘आतंकवाद के कारण पाकिस्तान की यात्रा पर पुन: विचार करें.’’ उसने अमेरिकी नागरिकों से आतंकवाद और सशस्त्र संघर्ष की संभावना के कारण पूर्व संघीय प्रशासित जनजातीय इलाकों (एफएटीए) और कश्मीर के पाकिस्तान के कब्जे वाले हिस्से समेत बलूचिस्तान और खैबर पख्तूनख्वा प्रांत की यात्रा ना करने के लिए कहा है.

पाकिस्तान में आतंकी हमले की योजनाः मंत्रालय
मंत्रालय ने कहा कि आतंकवादी समूह पाकिस्तान में हमलों की योजना बना रहे हैं. आतंकवादी परिवहन के हब, बाजार, शॉपिंग मॉल, सैन्य प्रतिष्ठानों, हवाईअड्डों, विश्वविद्यालयों, पर्यटक स्थलों, स्कूलों, अस्पतालों, प्रार्थना स्थलों और सरकारी केंद्रों को निशाना बना सकते हैं.

कई बार हो चुके हैं आतंकी हमले
प्रशासनिक अधिकारियों की ओर से कहा गया है कि पिछले कई वर्षों में बड़े पैमाने पर आतंकवादी हमलों से सैकड़ों लोग घायल हुए हैं. अपने नागरिकों से कश्मीर के पाकिस्तान के कब्जे वाले हिस्से में ना जाने का अनुरोध करते हुए विदेश मंत्रालय ने कहा कि ऐसा पता चला है कि इलाके में आतंकवादी समूह सक्रिय हैं.

भारत-पाकिस्तान सीमा का भी किया जिक्र
उसने कहा, ‘‘भारत और पाकिस्तान के बीच सशस्त्र संघर्ष का खतरा बना हुआ है. भारत और पाकिस्तान की सेनाओं के बीच नियंत्रण रेखा पर बार-बार गोलीबारी होती है.’’