चीन और पाकिस्तान के कॉलेज वैज्ञानिक अनुसंधान में बढ़ाएंगे सहयोग

दोनों देशों के कॉलेजों के वैज्ञानिक अनुसंधान के परिणाम चीन-पाकिस्तान आर्थिक कॉरिडोर में बड़ी परियोजनाओं के कार्यान्वयन के लिए लाभदायक हैं.

चीन और पाकिस्तान के कॉलेज वैज्ञानिक अनुसंधान में बढ़ाएंगे सहयोग
फाइल फोटो

बीजिंग: चीन-पाकिस्तान आर्थिक कॉरिडोर विश्वविद्यालय गठबंधन की तीसरी बैठक पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद (Islamabad) में आयोजित हुई. चीन (China)पाकिस्तान (Pakistan) के कॉलेजों ने वैज्ञानिक व वाणिज्य अनुसंधान के क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाने पर सहमति जताई, ताकि दोनों देशों की जनता को लाभ मिल सके. पाकिस्तान के योजना विकास और रुपांतर मंत्री खुसरो बख्तियार ने बैठक में कहा कि कॉलेजों के बीच सहयोग ने चीन-पाकिस्तान आर्थिक कॉरिडोर के सहयोग दायरे का विस्तार किया.

LIVE TV...

पाकिस्तान और चीन उद्योग, बुनियादी सुविधा, ऊर्जा, कृषि, संस्कृति समेत क्षेत्रों में आदान-प्रदान व सहयोग बढ़ाते हैं, जो दोनों देशों के संबंध और आर्थिक वृद्धि के लिए लाभदायक है. चीनी उच्च शिक्षा एसोसिएशन के उपाध्यक्ष कुआन फेचुन ने कहा कि उच्च शिक्षा में चीन और पाकिस्तान के सहयोग व्यावहारिक हैं. वैज्ञानिक अनुसंधान और प्रशिक्षण में दोनों देशों के सहयोग में कई उपलब्धियां हासिल हुईं, जिसने चीन-पाकिस्तान आर्थिक कॉरिडोर के निर्माण बढ़ाने में योगदान दिया. 

उन्होंने जोर देते हुए कहा कि दोनों देशों के कॉलेजों को हाथ मिलाकर वैज्ञानिक अनुसंधान करना और दोनों देशों के आर्थिक व सामाजिक विकास बढ़ाना चाहिए. पाकिस्तान स्थित चीनी राजदूत याओ चिंग ने बैठक में कहा कि कॉलेज, विद्वान, छात्र चीन-पाकिस्तान सहयोग में अहम भूमिका निभाते हैं. दोनों देशों के कॉलेजों के वैज्ञानिक अनुसंधान के परिणाम चीन-पाकिस्तान आर्थिक कॉरिडोर में बड़ी परियोजनाओं के कार्यान्वयन के लिए लाभदायक हैं.