भारत 1 हाथ बढ़ाएगा तो PAK शांति के लिए 2 कदम आगे बढ़ेगा: शाह महमूद कुरैशी

शाह महमूद कुरैशी (Shah Mahmood Qureshi) ने भारतीय विदेश मंत्री एस जयशंकर (S Jaishankar) की तारीफ भी की. उन्होंने कहा कि भारतीय समकक्ष ने 'हार्ट ऑफ एशिया समिट' (Heart of Asia conference) के अपने संबोधन में पाकिस्तान (Pakistan) के खिलाफ कोई नकारात्मक बात नहीं की.

भारत 1 हाथ बढ़ाएगा तो PAK शांति के लिए 2 कदम आगे बढ़ेगा: शाह महमूद कुरैशी

दुशांबे: पाकिस्तान (Pakistan) ने भारत (India) के साथ दोबारा व्यापार शुरू करने के फैसले को मंजूरी दे दी है. इमरान खान (Imran Khan) सरकार की आर्थिक मामलों से जुड़ी कमेटी द्वारा मंजूरी देने के बाद अब भारत का ये पड़ोसी देश जून 2021 तक भारत से कपास का आयात करेगा. इस बीच पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी (Shah Mahmood Qureshi) ने बड़ा बयान दिया है. ज़ी न्यूज़ (Zee News) के सहयोगी इंटरनेशनल चैनल विऑन (WION) को दिए खास इंटरव्यू में कुरैशी ने कहा, भारत और पाकिस्तान के लिए बातचीत ही एकमात्र रास्ता है.

'भारतीय विदेश मंत्री की तारीफ'

इस एक्सक्सूलिव इंटरव्यू के दौरान कुरैशी ने भारतीय विदेश मंत्री एस जयशंकर (S Jaishankar) की तारीफ भी की. उन्होंने कहा कि भारतीय समकक्ष ने 'हार्ट ऑफ एशिया समिट' (Heart of Asia conference) के अपने संबोधन में पाकिस्तान के खिलाफ कोई नकारात्मक बात नहीं की. कुरैशी ने कहा, 'अगर भारत शांति की दिशा में एक कदम उठाता है, तो पाकिस्तान दो कदम उठाएगा.' बातचीत के दौरान कुरैशी ने नियंत्रण रेखा (LoC) पर शांति बहाली और दोनों देशों के प्रधानमंत्रियों के बीच लिखे गए पत्रों के आदान-प्रदान का भी जिक्र किया. 

ये भी पढ़ें- PAK ने भारत से कपास आयात करने के फैसले को दी मंजूरी, 19 महीने से ठप था कारोबार

ये भी पढ़ें- NIA की स्पेशल कोर्ट का बड़ा फैसला, पाकिस्तानी आतंकी को सुनाई 10 साल की सजा

कुरैशी ने ये भी कहा, 'पाकिस्तान कभी भी बातचीत से पीछे नहीं हटा है, हमारा मानना ​​है कि बातचीत ही एकमात्र रास्ता है. उन्होंने कहा कि दो परमाणु शक्तियां हैं, जो युद्ध जैसी स्थितियों में शामिल नहीं हो सकते, क्योंकि यह सुसाइड करने के बराबर होगा. इसलिए जब कोई दूसरा समाधान नहीं है, कोई सैन्य समाधान नहीं है, तो आगे बढ़ने के लिए संवाद ही एक मात्र रास्ता रह जाता है.'

LIVE TV

 

 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.