close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

'PoK में जो दहशतगर्दी है, उसके पीछे वर्दी है', लोगों ने की PAK से आजादी की मांग

पाक अधिकृत कश्‍मीर (Pok) में पाकिस्‍तान के जुल्‍मो-सितम के खिलाफ लोग सड़कों पर उतर आए हैं.

'PoK में जो दहशतगर्दी है, उसके पीछे वर्दी है', लोगों ने की PAK से आजादी की मांग

नई दिल्‍ली: पाक अधिकृत कश्‍मीर (Pok) में पाकिस्‍तान के जुल्‍मो-सितम के खिलाफ लोग सड़कों पर उतर आए हैं. पीओके के तत्‍ता पानी में स्‍थानीय लोगों ने पाकिस्‍तानी सेना की ज्‍यादतियों के खिलाफ प्रदर्शन कर आजादी की मांग की है. बढ़ते विरोध-प्रदर्शनों के कारण रावलकोट, हजीरा, तेतरी नोट जिलों में मोबाइल और इंटरनेट सेवाएं बंद हैं. बीती रात 40 राष्‍ट्रवादी प्रदर्शनकारियों को पकड़कर हजीरा पुलिस स्‍टेशन में रखा गया. स्‍थानीय लोग पाकिस्‍तान से आजादी की मांग कर रहे हैं. दरअसल पाकिस्‍तान की खनिज संपदा समेत प्राकृतिक स्रोतों का जमकर दोहन कर रहा है लेकिन इलाके के लोग बदहाल दशा में जीने को मजबूर हैं. इसके अलावा पाकिस्‍तानी सेना ने यहां तमाम पाबंदियां लगा रखी हैं. इन वजहों से काफी अर्से से पोओके में पाकिस्‍तान से आजादी की मांग उठ रही है.

इस बीच जम्‍मू-कश्‍मीर में आर्टिकल 370 हटने के बाद पीओके का मुद्दा एक बार फिर गर्मा गया है. पाकिस्‍तान ने कहा है कि भारत पीओके पर हमला करने की तैयारी कर रहा है, वहीं भारत ने पलटवार करते हुए कहा है कि कश्‍मीर समेत पीओके आखिर पाकिस्‍तान का कब था, जिस पर वह अपना हक जताता है?

उल्‍लेखनीय है कि अनुच्छेद 370 हटने के बाद देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह पिछले दिनों लद्दाख पहुंचे. राजनाथ सिंह ने वहां किसान-जवान विज्ञान मेले का उद्घाटन किया. उद्घाटन समारोह में काफी संख्या में स्थानीय लोगों से साथ ही जवान भी मौजूद रहे. राजनाथ सिंह ने इस दौरान किसानों, जवानों और विज्ञान के क्षेत्र में सराहनीय काम करने वाले लोगों को संबोधित किया. अपने संबोधन में राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान पर हमला बोलते हुए कहा, "मैं पाकिस्तान से पूछना चाहता हूं, कश्मीर कब पाकिस्तान का था कि उसको लेकर रोते रहते हो? पाकिस्तान बन गया तो हम आपके वजूद का सम्मान करते हैं. इस मामले में पाकिस्तान की कोई जगह नहीं है."

LIVE TV

उन्होंने आगे कहा, "मैं पूछता हूं पाकिस्तान से कि कश्मीर कब पकिस्तान का हो गया? क्यों अनावश्यक रट है. आपको बोलने दिया इसका मतलब ये नहीं जो मन में आये वो बोलते रहें दुनिया को. देश आपको इसकी इजाजत नहीं देगा. पहले से तय था ये हमारा है. 370 हटाना हमारा आंतरिक मामला है. हमने अमेरिका के डिफेन्स सचिव से बात की. उन्होंने खुद कहा है ये हमारा अंदर का मामला है. तरह-तरह की बातें कश्मीर को लेकर पाकिस्तान को लेकर होती है. गिलगिट PoK हमारे हिस्से हैं.

इस बीच दिवालिया होने के कगार पर खड़े पाकिस्तान के रेल मंत्री शेख रशीद अहमद नित नई गीदड़ भभकी दे रहे हैं. उन्‍होंने पिछले दिनों भारत को संबोधित करते हुए कहा है कि पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) पर हमला युद्ध की घोषणा होगी. शेख रशीद ने कहा कि पाकिस्तान इतना बड़ा देश है कि अगर उस पर हमला होता है, तो उपमहाद्वीप का नक्शा बदल जाएगा. यह भारत और पाकिस्तान के बीच की लड़ाई नहीं होगी, यह उपमहाद्वीप का युद्ध होगा.