'इमरान कार्टून बनाने वालों को कंटेंट परोस रहे, हर दरवाजा खटखटाकर अपना मजाक उड़वा रहे'

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार को पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान पर निशाना साधते हुए कहा कि कश्मीर मुद्दे का अंतर्राष्ट्रीयकरण करने की कोशिश कर इमरान कार्टून बनाने वालों के लिए कंटेंट तैयार कर रहे हैं.

'इमरान कार्टून बनाने वालों को कंटेंट परोस रहे, हर दरवाजा खटखटाकर अपना मजाक उड़वा रहे'

नई दिल्ली: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने शनिवार को पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) पर निशाना साधते हुए कहा कि कश्मीर मुद्दे का अंतर्राष्ट्रीयकरण करने की कोशिश कर इमरान कार्टून बनाने वालों के लिए कंटेंट तैयार कर रहे हैं और दुनिया में हर दरवाजा खटखटाकर अपना मजाक उड़वा रहे हैं. उन्होंने मुंबई में माझगांव डॉक्स में भारत की दूसरी 'स्कॉर्पीन-क्लास अटैक' पनडुब्बी के शामिल होने के अवसर पर यह टिप्पणी की.

राजनाथ ने कहा, "जम्मू-कश्मीर में हमारे प्रगतिशील कदमों को जब वैश्विक समर्थन मिल रहा है, ऐसे में पाकिस्तानी प्रधानमंत्री दर-दर पर जाकर कार्टून बनाने वालों के लिए कंटेंट तैयार कर रहे हैं. हाल ही में माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी की अमेरिका यात्रा ने भारत के एक महाशक्ति के रूप में उभरने को दर्शाया है. हमने देखा कि कैसे खचाखच भरे स्टेडियम में मोदी जी का स्वागत अमेरिका के शीर्ष नेताओं ने किया."

INS 'Khanderi' से बढ़ी नौसेना की ताकत, राजनाथ सिंह बोले- अब समझ ले पाकिस्तान...

रक्षा मंत्री ने 1971 के युद्ध में पाकिस्तान के खिलाफ असाधारण भूमिका निभाने के लिए भारतीय नौसेना की सराहना की. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को यह समझना चाहिए कि आज हमारी सरकार के मजबूत संकल्प और नौसेना के बेड़े में पनडुब्बी आईएनएस खंडेरी के शामिल होने के साथ हम उसे और भी बड़ा झटका देने में सक्षम हैं.

राजनाथ सिंह ने कहा कि पाकिस्तान को यह समझ लेना चाहिए कि खंडेरी से हम और मजबूती से प्रहार करने में सक्षम होंगे. हालांकि उन्होंने कहा कि हम शांति में विश्वास रखते हैं. राजनाथ सिंह ने कहा कि यह पूरी दुनिया ने देखा कि कैसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्वागत यूएन में किया गया. उनकी तारीफ अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भी की.

नौसेना में शामिल हुई पनडुब्बी आईएनएस खंडेरी, समंदर में भारत की पैठ हुई मजबूत

राजनाथ सिंह ने कहा कि कुछ आतंकी समुद्र के रास्ते 26/11 जैसा हमला करने की कोशिश में हैं लेकिन उनके मंसूबे हम पूरे नहीं होने देंगे. उन्होंने कहा हमारे खतरे बढ़ रहे हैं. हमारा पड़ोसी हमें अस्थिर करना चाहता है. बता दें खंडेरी पनडुब्बी के फ्लैगपोस्ट पर भारत का राष्ट्रीय झंडा फहराकर उसे नौसेना के बेड़े में शामिल किया गया. इस दौरान नौसेना प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह और नौसेना के अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे.

‘साइलेंट किलर’ INS खंडेरी रडार को चकमा देने में है माहिर, पानी के भीतर छुड़ा देगी दुश्मन के छक्के

रक्षा मंत्री ने इस दौरान भारत का पहला पी-17 शिवालिक-क्लास युद्धक पोत नीलगिरी और विमान कैरियर ड्राईडॉक को भी भारतीय नौसेना में शामिल किया. नौसेना ने कहा कि इन तीनों के शामिल होने से समुद्र में देश की युद्धक क्षमता काफी बढ़ गई है.

आईएनएस खंडेरी पी-75 परियोजना के अंतर्गत नौसेना में शामिल होने वाली दूसरी युद्धक पनडुब्बी है. इससे पहले 2017 में एक और पनडुब्बी आईएनएस कावेरी नौसेना में शामिल हो चुकी है.

(इनपुट: एजेंसियां)