गोवा में दिगंबर कामत छोड़ेंगे हाथ का साथ, बीजेपी में जाने पर मिला ये जवाब

बीजेपी नेता और गोवा के डिप्‍टी स्‍पीकर माइकल लोबो का कहना है कि शनिवार शाम को बीजेपी की जो मीटिंग हुई, उसमें दिगंबर कामत के बीजेपी ज्‍वाइन करने पर भी बात हुई.

गोवा में दिगंबर कामत छोड़ेंगे हाथ का साथ, बीजेपी में जाने पर मिला ये जवाब

पणजी: बीजेपी की गोवा इकाई की कोर कमेटी बीमार मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के बिगड़ते स्वास्थ्य के मद्देनजर उनके उत्तराधिकारी पर रविवार को बैठक कर रही है. पूर्व मंत्री दयानंद मंडरेकर ने बैठक से पहले कहा कि सरकार को काम करने के लिए एक मुख्यमंत्री की जरूरत है, जो फैसले कर सके. मंडरेकर समिति के सदस्य हैं. उन्होंने कहा, "हम इस पर भी चर्चा करेंगे कि अगर मनोहर पर्रिकर स्वस्थ होते तो नेता बदलने की कोई जरूरत नहीं होती." इधर कांग्रेस के फिर से सरकार बनाने का दावा पेश कर दिया. इसके बाद बीजेपी खेमे से खबरें आईं कि कांग्रेस के दिग्‍गज नेता दिगंबर कामत कांग्रेस का साथ छोड़कर बीजेपी में शामिल हो सकते हैं.

बीजेपी नेता और गोवा के डिप्‍टी स्‍पीकर माइकल लोबो का कहना है कि शनिवार शाम को बीजेपी की जो मीटिंग हुई, उसमें दिगंबर कामत के बीजेपी ज्‍वाइन करने पर भी बात हुई. अब वह कब बीजेपी में शामिल होते हैं या उन्‍हें चीफ मिनिस्‍टर बनाया जाता है, इस बात का फैसला बीजेपी हाइकमान को करना है. हालांकि इसके बाद कांग्रेस और खुद दिगंबर कामत की ओर से सफाई आई क‍ि वह कांग्रेस नहीं छोड़ रहे हैं. इस तरह की खबरें बीजेपी की ओर से चलाई जा रही हैं.

बता दें कि माइकल लोबो ने ही शनिवार रात में बीजेपी मीटिंग के बाद कहा था कि सीएम मनोहर पर्रिकर की हालत काफी खराब है. हम सब उनकी सेहत में सुधार के लिए प्रार्थना कर रहे हैं. लेकिन हमें उम्‍मीद नहीं है. डॉक्‍टर भी सही सही कुछ नहीं कह  पा रहे हैं.

उधर, दयानंद मंडरेकर ने कहा, "लेकिन चूंकि पर्रिकर की सेहत अब नाजुक है और इसमें दिन प्रतिदिन गिरावट आ रही है तो पार्टी को फैसला करना है." उन्होंने कहा, "अगर सरकार चलानी है तो आपको मुख्यमंत्री की जरूरत होगी, आपको कैबिनेट नेता की जरूरत होगी, क्योंकि एक कैबिनेट को बहुत से फैसले लेने होते हैं."

पार्टी सूत्रों ने यह भी कहा कि पार्टी के कुछ केंद्रीय पदाधिकारी चर्चा के लिए गोवा पहुंच सकते हैं. पर्रिकर का स्वास्थ्य शनिवार को बिगड़ने के बाद उनके उत्तराधिकारी की खोज मुख्य मुद्दा बन गया है. भाजपा के कई नेताओं ने शनिवार को कहा कि पर्रिकर की हालत गंभीर है. पर्रिकर का पैंक्रियाटिक कैंसर का इलाज चल रहा है. केंद्रीय आयुष राज्य मंत्री श्रीपद नाईक ने कहा कि पर्रिकर का रक्तचाप शनिवार को अचानक गिर गया.
input : IANS