कोरोना काल में मथुरा में जन्माष्टमी पर दर्शन के लिए किए गए ये खास इंतजाम

वृंदावन के श्री राधादामोदर, श्री राधारमण और श्री राधारमण के विग्रह वाले मंदिर में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी परम्परागत रूप से दिन में मनाई जाती है. दिन में ही ठाकुर जी का अभिषेक और आरती होती है.

कोरोना काल में मथुरा में जन्माष्टमी पर दर्शन के लिए किए गए ये खास इंतजाम

मथुरा: ब्रज में हर साल की तरह इस बार भी श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव पूरे धूमधाम से मनाया जाएगा. ज्यादातर मंदिरों ने भक्तों के लिए ऑनलाइन दर्शन की व्यवस्था की है. मथुरा में श्रीकृष्ण जन्मस्थान सहित ठाकुर द्वारकाधीश और वृंदावन के ठाकुर बांकेबिहारी सहित कमोबेश सभी मंदिरों में बुधवार, 12 अगस्त की मध्य रात्रि में कन्हैया का महाभिषेक किया जाएगा. पर वृंदावन के तीन मंदिर ऐसे भी हैं जहां अभिषेक दिन में ही होगा. मान्यता है कि रात में नींद से जगाकर उनके बेटे का अभिषेक किया जाना माता यशोदा को पसंद नहीं है.

इसी मान्यता के तहत वृंदावन के श्री राधादामोदर, श्री राधारमण और श्री राधारमण के विग्रह वाले मंदिर में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी परंपरागत रूप से दिन में मनाई जाती है. दिन में ही ठाकुर जी का अभिषेक और आरती होती है.

श्री राधादामोदर मंदिर के सचिव पूर्णचंद्र गोस्वामी ने बताया, ‘एक समय में सप्त देवालयों की सेवा की जिम्मेदारी श्री जीव गोस्वामी करते थे. मंदिर अधिक होने पर ठाकुरजी की सेवा में वक्त लगता था. इसलिए उन्होंने श्री राधादामोदर, श्री राधारमण और श्री राधागोकुलानन्द मंदिर में जन्माष्टमी की सेवा दिन में और बाकी की सेवा रात में करना शुरू कर दिया. उनके द्वारा शुरू की गई परम्परा वर्तमान में भी कायम है.’

श्रीराधारमण मंदिर के सेवायत सुमित गोस्वामी ने बताया, ‘श्री राधारमण मंदिर में सूर्योदय के अनुसार तिथि मानी जाती है. इस साल जन्माष्टमी 12 अगस्त को सुबह 8.30 बजे से 11.30 बजे तक मनाई जाएगी.’

कोविड-19 के कारण इस साल जन्माष्टमी पर मथुरा के श्रीकृष्ण जन्मस्थान मंदिर के साथ वृन्दावन के श्री राधारमण, श्री राधादामोदर, श्री राधावल्लभ मंदिर में धार्मिक अनुष्ठान को यू-ट्यूब और फेसबुक के माध्यम से ऑनलाइन दिखाया जाएगा.

इनपुट: भाषा

ये भी देखें-

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.