Mahashivratri 2023: साल 2023 में कब है महाशिवरात्रि? जानें तारीख, पूजा शुभ मुहूर्त और पारण का समय
topStories1hindi1459559

Mahashivratri 2023: साल 2023 में कब है महाशिवरात्रि? जानें तारीख, पूजा शुभ मुहूर्त और पारण का समय

Maha Shivratri 2023 Date: शिव भक्‍तों को महाशिवरात्रि का बेसब्री से इंतजार रहता है. साल 2023 में महाशिवरात्रि फरवरी के महीने में मनाई जाएगी. इस दिन भोलेनाथ की पूजा करना सारी मनोकामनाएं पूरी करता है. 

Mahashivratri 2023: साल 2023 में कब है महाशिवरात्रि? जानें तारीख, पूजा शुभ मुहूर्त और पारण का समय

Mahashivratri 2023 Puja Muhurat: हिंदू धर्म में महाशिवरात्रि का बहुत महत्‍व है. भगवान शिव और माता पार्वती के विवाह का ये दिन शिव-पार्वती की कृपा पाने का सबसे अच्‍छा मौका होता है. इस दिन भगवान शिव का विशेष अभिषेक, पूजन किया जाता है. भगवान शिव का पंचामृत से रुद्राभिषेक होता है. उन्‍हें बेल पत्र, धतूरा, आक के फूल अर्पित किए जाते हैं. महाशिवरात्रि फाल्‍गुन मास की चतुर्दशी को मनाई जाती है. साल 2023 में 18 फरवरी को महाशिवरात्रि मनाई जाएगी. 

महाशिवरात्रि 2023 पूजा का शुभ मुहूर्त 

साल 2023 में महाशिवरात्रि का त्योहार 18 फरवरी, शनिवार को मनाया जाएगा. फाल्‍गुन मास की चतुर्दशी तिथि 17 फरवरी की रात 8:02 बजे से शुरू होगी और 18 फरवरी की शाम 4:18 बजे समाप्‍त होगी. महाशिवरात्रि व्रत रखने वाले व्रतियों के लिए पारण का शुभ समय 19 फरवरी की सुबह 06:57 बजे से दोपहर 3:33 बजे तक रहेगा.

महाशिवरात्रि की पूजा से पूरी होंगी सारी मनोकामनाएं

महाशिवरात्रि के दिन शिवलिंग का पंचामृत से अभिषेक करें. दूध, घी, शक्‍कर, शहद, दही और गंगाजल भक्ति भाव से अर्पित करें. केसर मिश्रित जल चढ़ाना बेहद शुभ रहेगा. शिव जी का चंदन से तिलक करें. बेलपत्र, भांग, गन्ने का रस, धतूरा, फल, मिठाई, मीठा पान, इत्र और वस्‍त्र अर्पित करें. इस दिन शिव जी को खीर और केले का भोग लगाना बहुत अच्‍छा माना जाता है. दीपक जलाएं. अभिषेक के बाद 108 बार ऊं नम: शिवाय मंत्र का जाप करें. 

महाशिवरात्रि पर ये काम करने से दूर होंगे संकट 

जीवन में बाधाओं-समस्‍याओं से निजात पाने के लिए महाशिवरात्रि के दिन उपवास रखें. शिव जी को काले तिल अर्पित करें. अगले दिन असहाय लोगों को भोजन कराएं. इसके बाद अपना व्रत खोलें. जरूरतमंदों को दान दें. ऐसा करने से जीवन के कष्‍ट दूर होंगे और सुख-समृद्धि, सौभाग्‍य बढ़ेगा. 

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. ZEE NEWS इसकी पुष्टि नहीं करता है.)

अपनी निःशुल्क कुंडली पाने के लिए यहाँ तुरंत क्लिक करें

Trending news