Zee Rozgar Samachar

Haridwar Mahakumbh 2021: मेले में स्नान के लिए आ रहे हैं तो जान लें ये 5 बड़ी बातें, प्रशासन ने तैयार की गाइडलाइंस

कोरोना संक्रमण को देखते हुए हरिद्वार महाकुंभ 2021 (Haridwar Mahakumbh 2021) की अवधि पहले ही साढ़े तीन महीने से घटाकर डेढ महीना कर दी गई थी. अब भीड़ कम करने के लिए मेला प्रशासन ने नई गाइडलाइंस जारी की है.

ज़ी न्यूज़ डेस्क | Jan 22, 2021, 18:05 PM IST

हरिद्वार: उत्तराखंड में होने वाला हरिद्वार महाकुंभ 2021 (Haridwar Mahakumbh 2021) डेढ़ महीने बाद शुरू होने जा रहा है. इस बार यह मेला पारंपरिक 12 साल के बजाय 11 साल के बाद हो रहा है. यदि आप इस मेले में स्नान करने के लिए हरिद्वार जाने की प्लानिंग कर रहे हैं तो आपको हरिद्वार महाकुंभ मेला प्रशासन की गाइडलाइंस के बारे में जान लेना बहुत जरूरी है.

 

1/5

कोरोना के लक्षण दिखे तो नहीं मिलेगी एंट्री

 Entry will not be available if see signs of corona

आईजी कुंभ मेला संजय गुंज्याल (Sanjay guanyal) ने इसके लिए बड़ी कार्ययोजना तैयार की है. इसके अनुसार हरिद्वार महाकुंभ 2021 (Haridwar Mahakumbh 2021) में जाने वाले किसी व्यक्ति में यदि कोरोना के लक्षण मिले तो उन्हें मेला क्षेत्र में एंट्री नहीं मिलेगी. उन्हें या तो वापस लौटा दिया जाएगा या फिर इलाज के लिए कोविड सेंटर में रैफर कर दिया जाएगा.

 

2/5

रात रुकने के लिए लाना होगा कोरोना निगेटिव सर्टिफिकेट

Corona negative certificate will have to be brought for night stay

उत्तराखंड पुलिस के मुताबिक यदि कोई श्रद्धालु मेला स्थल पर रात्रि प्रवास करना चाहेंगे तो कोविड टेस्ट में निगेटिव होने के बाद ही ऐसा कर सकेंगे. उन्हें बिना टेस्ट कराए मेला स्थल पर रुकने की इजाजत नहीं मिलेगी. कोरोना संक्रमण की आशंका को देखते हुए प्रशासन ने महाकुंभ मेले (Haridwar Mahakumbh 2021) में 10 साल से छोटे बच्चों और बुजुर्गों को नहीं आने की अपील की है.

3/5

‘एक स्नान, तीन डुबकी’ फार्मूले पर करना होगा अमल

 'one bath, three dip' formula will have to be implemented

पुलिस-प्रशासन की योजना के मुताबिक श्रद्धालुओं को हरिद्वार महाकुंभ 2021 (Haridwar Mahakumbh 2021) में लोगों  ‘एक स्नान, तीन डुबकी’ फार्मूले पर अमल करना होगा. मेले में आने वाले लोगों को ऑनलाइन पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करवाना होगा. महाकुंभ के दौरान सभी लोगों को मास्क पहनना होगा. ऐसा न करने पर उन पर जुर्माना लग सकता है. 

 

4/5

हरिद्वार महाकुंभ 2021 में 4 शाही स्नान होंगे

There will be 4 shahi snan in Haridwar Mahakumbh 2021

करीब साढ़े तीन महीने तक चलने वाला महाकुंभ कोरोना संक्रमण की वजह से इस साल मात्र डेढ़ महीने का होगा. इस बार पहला शाही स्नान 11 मार्च को शिवरात्रि पर होगा. दूसरा शाही स्नान 12 अप्रैल को सोमवती अमावस्या पर, तीसरा शाही स्नान 14 अप्रैल को मेष संक्रांति और चौथा शाही स्नान 27 अप्रैल को बैसाख पूर्णिमा पर होगा. 

 

5/5

दुनिया का सबसे बड़ा धार्मिक मेला है 'महाकुंभ'

दुनिया का सबसे बड़ा धार्मिक मेला है 'महाकुंभ'

बता दें कि हर 12 साल पर लगने वाला महाकुंभ दुनिया का सबसे बड़ा धार्मिक मेला होता है. यह बारी-बारी से 12वें वर्ष में हरिद्वार, प्रयागराज, उज्जैन और नासिक में लगता है. लेकिन इस साल हरिद्वार का महाकुंभ (Haridwar Mahakumbh 2021) 11 साल पर ही हो रहा है. कहते हैं कि ग्रहों के राजा बृहस्पति कुंभ राशि में हर बारह वर्ष बाद प्रवेश करते हैं. प्रवेश की गति में हर बारह वर्ष में अंतर आता है. यह अंतर बढ़ते बढ़ते सात कुंभ बीत जाने पर एक वर्ष कम हो जाता है. इस वजह से आठवां कुंभ ग्यारहवें वर्ष में पड़ता है.