उप्र: गंगा यात्रा का आज से आगाज, मुख्यमंत्री बिजनौर से, राज्यपाल बलिया से करेंगी शुरू

यात्राएं प्रदेश के 87 विधानसभा क्षेत्रों, 26 लोकसभा क्षेत्रों व 27 जिलों से गुजरेगी.

उप्र: गंगा यात्रा का आज से आगाज, मुख्यमंत्री बिजनौर से, राज्यपाल बलिया से करेंगी शुरू
फाइल फोटो

लखनऊ: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) सरकार गंगा को निर्मल और स्वच्छ बनाने के लिए बड़ा अभियान चला रही है. इसी के तहत पांच दिवसीय गंगा यात्रा आज बिजनौर व बलिया से प्रारंभ होगी. गंगा यात्रा के नोडल विभाग जलशक्ति के मंत्री डॉ. महेन्द्र सिंह ने बताया कि उत्तर प्रदेश की इस गंगा यात्रा में भागीदार उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल के साथ उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yodi Adityanath) तथा आठ केंद्रीय मंत्री भी होंगे.

गंगा यात्रा को बलिया से राज्यपाल आनंदीबेन पटेल तथा बिजनौर से उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत रवाना करेंगे. उनके साथ केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान भी रहेंगे. बलिया में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल के साथ बिहार के उपमुख्यममंत्री सुशील मोदी, उत्तर प्रदेश के जलशक्ति मंत्री डॉ. महेंद्र सिंह और केंद्रीय मंत्री महेंद्र नाथ पाण्डेय मौजूद रहेंगे. यात्रा का समापन 31 जनवरी को कानपुर में गंगा के किनारे होगा.

उन्होंने बताया कि यह यात्राएं प्रदेश के 87 विधानसभा क्षेत्रों, 26 लोकसभा क्षेत्रों व 27 जिलों से गुजरेगी. दोनों यात्राएं सड़क मार्ग से 1,238 और नाव से 150 किमी की दूरी तय करेंगी. महेन्द्र सिंह ने बताया कि पृथ्वी पर गंगा का कुल बहाव 2,525 किलोमीटर है. इसमें 1,140 किमी लंबा क्षेत्र उत्तर प्रदेश में है. 

गंगा के किनारे 1,040 ग्राम पंचायत, 1,656 राजस्व गांव और 21 नगरीय निकाय हैं. ये 87 विधानसभा क्षेत्रों, 26 लोकसभा क्षेत्रों व 27 जिलों में पड़ते हैं. बलिया से कानपुर तक 657 और बिजनौर से कानपुर तक 581 किमी की यात्रा सड़क मार्ग से होगी. 150 किमी यात्रा जल मार्ग से होगी. यात्रा का शुभारंभ गंगा पूजन व गंगा आरती से होगा. हर रोज गंगा पूजन से यात्रा शुरू होगी.

ये भी देखें:-