Space News: अंतरिक्ष में मंगलवार तड़के होगा धरती की सुरक्षा का ‘महाटेस्ट’, एस्टेरॉयड से टकराएगा NASA का स्पेसक्राफ्ट
topStorieshindi

Space News: अंतरिक्ष में मंगलवार तड़के होगा धरती की सुरक्षा का ‘महाटेस्ट’, एस्टेरॉयड से टकराएगा NASA का स्पेसक्राफ्ट

NASA Spacecraft:  यह टक्कर अमेरिकी समयानुसार सोमवार (26 सितंबर) शाम 7.14 मिनट पर होगी जबकि भारतीय समयानुसार यह टक्कर मंगलवार (27 सितंबर) तड़के 4.44 पर होगी. 

Space News: अंतरिक्ष में मंगलवार तड़के होगा धरती की सुरक्षा का ‘महाटेस्ट’, एस्टेरॉयड से टकराएगा NASA का स्पेसक्राफ्ट

NASA Spacecraft: नासा मंगलवार तड़के अंतिरक्ष में पृथ्वी की सुरक्षा से जुड़ा एक महत्वपूर्ण टेस्ट करने जा रहा है. अगर नासा का यह मिशन कामयाब हो गया तो भविष्य में धरती की ओर आ रहे एस्टेरॉयड यानी क्षुद्रग्रहों की दिशा बदली जा सकेगी.  नासा ने ने एक ऐसा अंतरिक्ष यान - डबल एस्टेरॉयड रिडायरेक्शन टेस्ट (DART) तैयार किया है. यह अंतरिक्ष में मौजूद एक एस्टेरॉयड से टकराने वाला है. इस टक्कर का मकसद होगा एस्टेरॉयड की दिशा को बदल देना. ये टक्कर धरती से करीब 1.1 करोड़ किलोमीटर की दूरी पर होगी. यह पहली बार होगा कोई इंसानी अंतरिक्ष यान किसी एस्टेरॉयड से टकराएगा. 

किससे टकराएगा डार्ट
डार्ट मिशन करीब 24 हजार प्रतिकिलोमीटर की रफ्तार से डिडिमोस एस्टेरॉयड का चक्कर लगाने वाले चंद्रमा डाइमॉरफोस से टकराएगा. अगर इस टक्कर से दिशा बदली तो यह बड़ी कामयाबी होगी. टक्कर के बाद दोनों पत्थर के दिशा और गति में आए बदलावों की स्टडी की जाएगी.  डाइमॉरफस आकार में 163 मीटर चौड़ा यानी करीब 535 फीट का एस्टेरॉयड है. वहीं डिडिमॉस 780 मीटर यानी करीब 2560 फीट लंबा एस्टेरॉयड है. दोनों के बीच महज दूरी महज 1.2 किलोमीटर है. 

पृथ्वी को नहीं है कोई खतरा
हालांकि ये दोनों पत्थर पृथ्वी के  कोई खतरा नहीं है लेकिन इस टक्कटर के जरिए यह पता लगाने का प्रयास किया जाएगा कि क्याक धरती के लिए खतरा बनने वाली किसी आसमानी चट्टान की दिशा को ऐसी टक्कर से बदला जा सकता है. 

कब होगी टक्कर?
यह टक्कर अमेरिकी समयानुसार सोमवार (26 सितंबर) शाम 7.14 मिनट पर होगी जबकि भारतीय समयानुसार यह टक्कर मंगलवार (27 सितंबर) तड़के 4.44 पर होगी. 

(ये ख़बर आपने पढ़ी देश की नंबर 1 हिंदी वेबसाइट Zeenews.com/Hindi पर)

 

 

 

Trending news