चार अंतरिक्ष यात्रियों को लेकर अपने सफर पर निकला SpaceX कैप्सूल, देखें वीडियो

स्पेसएक्स (SpaceX) ने फ्लोरिडा के कैनेडी स्पेस सेंटर से अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन (ISS) के लिए सफलतापूर्वक उड़ान भरी. 27 घंटे का सफर पूरा करके इसके कल ISS पहुंचने की उम्मीद है.

चार अंतरिक्ष यात्रियों को लेकर अपने सफर पर निकला SpaceX कैप्सूल, देखें वीडियो
फाइल फोटो

वॉशिंगटन: अंतरिक्ष के रहस्यों से पर्दा उठाने के लिए स्पेसएक्स (SpaceX) कैप्सूल चार अंतरिक्ष यात्रियों को लेकर रवाना हो गया है. कैप्सूल को रविवार को फ्लोरिडा के कैनेडी स्पेस सेंटर से सफलतापूर्वक लॉन्च किया गया. इस बारे में अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा ने ट्वीट करके जानकारी दी है. 

एक जापानी यात्री 
इस मिशन में चार अंतरिक्ष यात्रियों को अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन (International Space Station-ISS) भेजा गया है. इसमें नासा से तीन और जापानी अंतरिक्ष एजेंसी जैक्सा का एक यात्री शामिल है. बता दें कि स्पेसएक्स एलन मस्क की कंपनी है, जो नासा के अंतरिक्ष यात्रियों को स्पेस में ले जाने का काम कर रही है.

Nitish Kumar आज लेंगे बिहार के मुख्यमंत्री पद की शपथ, बनाने जा रहे हैं ये रिकॉर्ड

Falcon 9 रॉकेट का इस्तेमाल
नासा के मुताबिक, Falcon 9 रॉकेट से सभी अंतरिक्ष यात्री ISS के लिए रवाना हो गए हैं. स्थानीय समयानुसार रविवार शाम 7:27 बजे फ्लोरिडा के कैनेडी स्पेस सेंटर से रॉकेट को सफलतापूर्वक लॉन्च किया गया.  27 घंटे के सफर के बाद यान मंगलवार के सुबह 9:30 बजे ISS पहुंचने की उम्मीद है.

निर्भरता कम करने का प्रयास 
इससे पहले नासा ने मई में दो अंतरिक्ष यात्रियों को अंतरिक्ष में भेजा था, इसका प्रक्षेपण एंडेवर नामक एक कैप्सूल में किया गया था. दरअसल, नासा रूसी सोयुज रॉकेट पर अपनी निर्भरता कम करना चाहता है, इसलिए इस बार उसने एलोन मस्क की कंपनी से हाथ मिलाया है. अभी तक अमेरिकी स्पेस एजेंसी अपने अंतरिक्ष यात्रियों को अंतरिक्ष स्टेशन तक पहुंचाने के लिए सोयुज रॉकेटों का इस्तेमाल करती रही है.  

यह है स्पेसएक्स का मकसद
स्पेसएक्स फाल्कन 9 और फाल्कन हैवी रॉकेट्स पर कमर्शियल और सरकारी लॉन्च सेवाएं देती है. एलन मस्क ने 2002 में कंपनी की नींव रखी थी. इसका मुख्य मकसद अंतरिक्ष में ट्रांसपोर्टेशन लागत कम करना है. माना जाता है कि SpaceX दुनिया की एकमात्र ऐसी निजी कंपनी है, जो कि नियमित तौर पर धरती पर रॉकेट के स्टेज वापस लौटाती है ताकि इन्हें फिर से लॉन्च किया जा सके.