IND vs BAN: टॉस हारने का अफसोस नहीं हुआ विराट कोहली को, खुद बताई वजह

India vs Bangladesh:  बांग्लादेश के खिलाफ पहले टेस्ट में टॉस हारने का विराट कोहली की दुख नहीं हुआ. उनका कहना है कि फैसला उनके मुताबिक ही हुआ. 

IND vs BAN: टॉस हारने का अफसोस नहीं हुआ विराट कोहली को, खुद बताई वजह
विराट कोहली का कहना है कि पहले दिन इंदौर की पिच गेंदबाजों को मदद करती है. (फोटो: ANI)

नई दिल्ली: इंदौर के होल्कर स्टेडियम में भारत और बांग्लादेश (India vs Bangladesh) के बीच पहला टेस्ट शुरू हो गया है. बांग्लादेश के कप्तान मोमिनुल हक ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया. वहीं विराट कोहली को टॉस हारने का अफसोस नहीं हुआ. विराट ने कहा कि वे भी पहले गेंदबाजी ही करना चाहते थे.  

हम भी यही चाहते थे
विराट ने टॉस हारने के बाद कहा, "पिच पर थोड़ी घास है. इंदौर में इससे पहले शुरुआती दिन थोड़ा मसालेदार रहा है. हम तीन  सीमर्स के साथ खेल रहे हैं. हम भी पहले गेंदबाजी करना चाहते थे. लेकिन हम यह भी चाहते थे कि हमारे बल्लेबाज मुश्किल हालातों में बल्लेबाजी करें. हमारे सीमर्स के लिये यह आदर्श स्थिति है जो इस समय टॉप पर हैं."

यह भी पढ़ें: IND vs BAN: मैच से पहले विराट ने की बॉलर्स की तारीफ, कहा, 'उनसे यही चाहता था'

स्पिनर्स की भी होगी भूमिका
स्पिनर्स के बारे में बात करते हुए विराट ने कहा, "मैं समझता हूं कि दूसरे दिन से बल्लेबाजी करना बढ़िय़ा होगा. हम दो स्पिनर्स के साथ भी खेल रहे हैं. इसलिए हमने तीसरी पारी का भी ध्यान रखा है. नदीम इस बार टीम का हिस्सा नहीं हैं. ईशांत शर्मा उनकी जगह आए हैं यह फैसला पिच को देखते हुए लिया गया है."

मोमिनुल ने क्यों ली पहले बल्लेबाजी
मोमिनुल हक ने टॉस जीतने के बाद कहा, "पिच ठोस लग रही है और चौथी पारी में टूट सकती है. बांग्लादेश के लिए कप्तानी करना बड़े सम्मान की बात है. केवल कुछ को ही यह मौका मिलता है. हम सात बल्लेबाजों और चार गेंदबाजों के साथ उतर रहे हैं."

 दोनों टीमों की प्लेइंग इलेवन:
भारत:
विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, मयंक अग्रवाल, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे,  ऋद्धिमान साहा, रवींद्र जडेजा, रविचंद्रन अश्विन,  मोहम्मद शमी, उमेश यादव, इशांत शर्मा.

बांग्लादेश: मोमिनुल हक (कप्तान), अबू जायेद, लिटन दास, मुशफिकुर रहीम, महमूदुल्लाह, मोहम्मद मिथुन, शादमान इस्लाम, इमरुल कायेस, मेहदी हसन मिराज, तैजुल इस्लाम, नइबादत हुसैन.