IND vs ENG: Chennai Test में Team India की हार पर Wasim Jaffer बोले, 'दिल छोटा न करें'

इंग्लैंड (England) के खिलाफ टीम इंडिया (Team India) भले ही पहला टेस्ट हार चुकी है, लेकिन अभी भी 'विराट एंड कपनी' के पास वापसी का मौका है, क्योंकि सीरीज में 3 मैच खेले जाने बाकी है. वसीम जाफर भी इसी बात पर जोर दे रहें हैं कि भारतीय टीम ये सीरीज जी सकती है. 

IND vs ENG: Chennai Test में Team India की हार पर Wasim Jaffer बोले, 'दिल छोटा न करें'
वसीम जाफर (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: इंग्लैंड (England) क्रिकेट टीम ने चेन्नई  (Chennai) में खेले गए पहले टेस्ट में टीम इंडिया को 227 रनों से करारी शिकस्त दी और सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल की. टीम इंडिया (Team India) के फैंस इस हार से काफी निराश हैं, लेकिन इस बीच भारत के पूर्व क्रिकेटर वसीम जाफर ने नाउम्मीद दर्शकों की हौसलाअफजाई की है.

जाफर ने क्या कहा?

वसीम जाफर (Wasim Jaffer) ने ट्विटर पर लिखा, 'भारतीय क्रिकेट फैंस अपना दिल छोटा न करें, आखिरी बार टीम इंडिया ने जब सीरीज का पहला टेस्ट गंवाया तब आखिर में वो सीरीज अपने नाम की थी. ' जाहिर सी बात है कि जाफर 2020-21 के ऑस्ट्रेलिया टूर की बात कर रहे हैं जब एडिलेड में पहला टेस्ट हारने के बाद टीम इंडिया ने 2-1 से सीरीज पर कब्जा किया था.

 

 

घरेलू सीरीज में पहले भी हुई है वापसी

इसके साथ ही वसीम जाफर ने ये भी कहा, 'पिछली बार जब भारत अपने घर में टेस्ट सीरीज का पहला टेस्ट हार गई थी, फिर उसने वो सीरीज फतह की थी.' जाफर यहां साल 2017 की उस टेस्ट सीरीज की बात कर रहे हैं जब ऑस्ट्रेलियाई टीम भारत दौरे पर आई थी. तब कंगारुओं ने पहला टेस्ट जीता था, लेकिन टीम इंडिया ने वापसी करते हुए सीरीज पर 2-1 से  सीरीज अपने नाम की थी.

यह भी पढ़ें- IND vs ENG: Kevin Pietersen ने Team India के जख्मों पर छिड़का नमक, हिंदी में ट्वीट कर उड़ाया मजाक

चेन्नई में ही होगा दूसरा टेस्ट

भारत और इंग्लैंड (IND vs ENG) के बीच सीरीज का दूसरा टेस्ट चेन्नई  (Chennai) के चेपक मैदान में ही खेला जाएगा. बाकी बचे 2 मैच अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में आयोजित किए जाएंगे. भारत के पास इन 3 टेस्ट मैचों में वापसी करने का मौका होगा, बशर्ते टीम इंडिया जीत के जज्बे से खेले.

 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.