close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

VIDEO: भारतीय क्रिकेट को मिली भाइयों की एक और जोड़ी, अब ‘चाहर बद्रर्स’ दिखाएंगे कमाल

लेग स्पिनर राहुल चाहर ने इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्यू किया. उनके भाई पहले से ही टीम इंडिया के लिए खेल रहे हैं. 

VIDEO: भारतीय क्रिकेट को मिली भाइयों की एक और जोड़ी, अब ‘चाहर बद्रर्स’ दिखाएंगे कमाल
राहुल और दीपक चचेरे भाई हैं. दोनों वेस्टइंडीज के खिलाफ तीसरे टी20 मैच में साथ खेले. (फोटो साभार: Instagram/deepak_chahar9)

नई दिल्ली: भारतीय टीम मंगलवार (6 अगस्त) को वेस्टइंडीज के खिलाफ जैसे ही मैदान उतरी, वैसे ही ‘ब्रदर्स हिस्ट्री’ में एक और नाम जुड़ गया. भारत गयाना में खेले जा रहे तीसरे टी20 मैच में तीन बदलाव के साथ उतरा. कप्तान विराट कोहली ने इस मैच में उन तीनों खिलाड़ियों को मौके दिए, जिन्हें पहले दो मैचों में प्लेइंग इलेवन में जगह नहीं मिली थी. इन खिलाड़ियों में केएल राहुल, राहुल चाहर (Rahul Chahar) और दीपक चाहर शामिल हैं. दीपक और केएल टीम में वापसी कर रहे हैं. जबकि राहुल पहला इंटरनेशनल मैच खेल रहे हैं. 

राहुल चाहर और दीपक चाहर (Deepak Chahar) चचेरे भाई हैं. इस मैच में दोनों साथ खेल रहे हैं. इसके साथ ही भारत को भाइयों की एक और जोड़ी मिल गई है. हार्दिक पांड्या और क्रुणाल पांड्या भारतीय टीम के लिए पहले से ही खेल रहे हैं. उनसे पहले पठान ब्रदर्स (इरफान और यूसुफ) व अमरनाथ ब्रदर्स (मोहिंदर और सुरिंदर) भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं. 

राहुल चाहर का यह पहला इंटरनेशनल मैच है. इसके साथ ही वे कम उम्र में डेब्यू करने वाले भारत के चौथे खिलाड़ी बन गए हैं. उनकी उम्र 20 साल दो दिन है. भारत के लिए सबसे कम उम्र में टी20 मैच खेलने का रिकॉर्ड वॉशिंगटन सुंदर (18 साल 80 दिन) के नाम है. इस मामले में ऋषभ पंत (19 साल 120 दिन) दूसरे और इशांत शर्मा (19 साल 152 दिन) तीसरे नंबर पर हैं. 

 

1 और 1 मिलकर 11 हो गए... 
राहुल चाहर और दीपक चचेरे भाई हैं. दीपक चाहर टीम इंडिया के लिए 2018 में डेब्यू कर चुके हैं. राहुल ने एक बार बताया था कि उनके ताऊ जी दोनों भाइयों को साथ खेलते देखना चाहते हैं. उनके शब्दों में, ‘ताऊ जी का ड्रीम है हम दोनों भाई एक साथ खेलें. वे कहते हैं कि तू मेरे लिए एक और एक ग्यारह की तरह है. दीपक पहले खेलना शुरू किया. इसलिए तू मेरे लिए एक और एक ग्यारह के बराबर है.’

ऑस्ट्रेलिया के लिए साथ खेल चुके 3 चैपल
विश्व क्रिकेट की बात करें तो ब्रदर्स की बात आते ही चैपल, वॉ, एंडी प्लॉवर, मोर्कल, अकमल की याद आती हैं. ऑस्ट्रेलिया के लिए तो तीन चैपल (इयान, ग्रेग और ट्रेवर) एक साथ खेल चुके हैं. उनेक बाद स्टीव वॉ और मार्क वॉ की जोड़ी को कौन नहीं जानता. इसमें कोई शक नहीं कि यह दुनिया की सबसे कामयाब ब्रदर्स जोड़ी है. जिम्बाब्वे के एंडी फ्लॉवर-ग्रांट फ्लॉवर, दक्षिण अफ्रीका के एल्बी और मोर्ने मोर्कल पाकिस्तान के कामरान और उमर अकमल भी काफी कामयाब रहे हैं. इनके अलावा ब्रेट ली-शेन ली, ब्रेंडन मैक्कुलम-नाथन मैक्कुलम और शॉन मार्श-मिचेल मार्श जैसे ब्रदर्स भी दुनिया में कमाल दिखा चुके हैं या दिखा रहे हैं.