IPL Controversy: जीतकर भी ‘हार’ गए अश्विन, संगकारा-पीटरसन-कैफ ने उठाए mankading पर सवाल

पंजाब के कप्तान रविचंद्रन अश्विन ने जॉस बटलर को मांकडिंग (mankading) कर पैवेलियन लौटाया. इसके बाद क्रिकेट जगत में इस मुद्दे पर बहस छिड़ गई. 

IPL Controversy: जीतकर भी ‘हार’ गए अश्विन, संगकारा-पीटरसन-कैफ ने उठाए mankading पर सवाल
जॉस बटलर और रविचंद्रन अश्विन. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: पंजाब की टीम ने रविचंद्रन अश्विन की कप्तानी में सोमवार को इंडियन टी20 लीग (आईपीएल) के 12वें संस्करण के अपने पहले मैच में रोमांचक जीत दर्ज की. उसने राजस्थान की टीम को जयपुर में पिछले छह मुकाबले में पहली बार हराया. इसके बावजूद अश्विन को इस मैच के बाद आलोचना का सामना करना पड़ रहा है. इयोन मोर्गन, कुमार संगकारा, केविन पीटरसन, मोहम्मद कैफ समेत कई पूर्व क्रिकेटरों ने कहा कि अश्विन ने इस मैच में खेलभावना के विपरीत खेल दिखाया. हालांकि, सुनील गावस्कर और डीन जोंस ने कहा कि अश्विन का खेल नियमों के अनुरूप था. इसलिए उन पर सवाल नहीं उठाना चाहिए. 

रविचंद्रन अश्विन की आलोचना राजस्थान के अंग्रेज बल्लेबाज जॉस बटलर को मांकडिंग (mankading)  करने के लिए हो रही है. दरअसल, पंजाब ने इस मैच में राजस्थान को 185 रन का लक्ष्य दिया. इसके जवाब में राजस्थान ने एक समय 12.4 ओवर में एक विकेट पर 108 रन बना लिए थे. अश्विन राजस्थान की पारी का 13वां ओवर फेंक रहे थे. उन्होंने देखा कि नॉनस्ट्राइकर एंड पर जॉस बटलर क्रीज छोड़कर आगे बढ़ रहे हैं. अश्विन ने गेंद फेंकने की बजाय नॉनस्ट्राइकर एंड की गिल्लियां ही बिखेर दीं. इसके बाद बटलर और अश्विन के बीच बहस भी हुई. बहरहाल, तीसरे अंपायर ने बटलर को आउट दे दिया. बाद में राजस्थान यह मैच 14 रन से हार गया. 

यह भी पढ़ें: धोनी के संन्यास पर चेन्नई टीम के कोच बोले- 'नहीं पता वर्ल्ड कप के बाद क्या करेंगे'

बटलर को आउट दिए जाने के साथ ही क्रिकेट जगत और सोशल मीडिया पर इस मुद्दे पर बहस छिड़ गई. भारत के ही पूर्व क्रिकेटर मोहम्मद कैफ ने ट्वीट किया, ‘बटलर का आउट नियम के अनुरूप ही है. लेकिन अश्विन को उन्हें कम से कम एक बार चेतावनी देनी चाहिए थे. बेहद आश्चर्यजनक. याद रखें, अश्विन एक बार इंटरनेशनल मैच में भी ऐसा कर चुके हैं, लेकिन तब सहवाग ने अपील वापस ले ली थी.’ 

इंग्लैंड के वनडे टीम के कप्तान इयोन मोर्गन और वहीं के ओपनर जैसन रॉय ने भी अश्विन की खेलभावना पर सवाल उठाए. मोर्गन ने लिखा, ‘मुझे यकीन नहीं हो रहा है कि मैं क्या देख रहा हूं. यह बच्चों के लिए बुरा उदाहरण है. मुझे लगता है कि अश्विन को इस पर बाद में पछतावा होगा.’ जैसन रे ने भी कहा कि अश्विन का व्यवहार सदमा पहुंचाने वाला है. यह बेहद निराशाजनक है. 

स्टार स्पोर्टस चैनल पर कॉमेंट्री कर रहे श्रीलंका के कुमार संगकारा और इंग्लैंड के केविन पीटरसन दोनों ने कहा कि बटलर नियमानुसार तो आउट थे, लेकिन अश्विन को ऐसा करने से पहले चेतावनी देनी चाहिए थी. संगकारा ने कहा कि अगर अश्विन चेतावनी देकर ऐसा करते तो ज्यादा बेहतर होता. 

इस बीच, पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर और ऑस्ट्रेलिया के पूर्व क्रिकेटर डीन जोंस, पंजाब के कप्तान के पक्ष में उतर आए. गावस्कर ने स्टार स्पोर्ट्स पर कॉमेंट्री करते हुए कहा कि किसी भी बल्लेबाज को गेंद फेंके जाने से पहले रन लेने की कोशिश नहीं करनी चाहिए. उसे दो इंच का फायदा भी नहीं मिलना चाहिए. अविन ने बटलर को आउट कर कुछ भी गलत नहीं किया है.
 

डीन जोंस ने भी ट्वीट किया कि जब नियमों के तहत बटलर आउट हैं, तो इसके उचित या अनुचित होने पर बहस नहीं करनी चाहिए. अगर दोष ही देना है तो यह नियम बनाने वालों को दोष दीजिए. बता दें कि क्रिकेट में नॉन स्ट्राइकर का बल्लेबाज अगर गेंदबाज के हाथ से गेंद छूटने से पहले क्रीज से बाहर निकल आए तो उसे रन आउट करने को मांकडिंग कहते हैं. एक तरह से कहा जा सकता है कि अश्विन मांकडिंग कर मैच तो जीत गए. लेकिन खेलभावना के मैदान पर वे यह बाजी हार गए.