close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

IPL: शेन वॉर्न का बड़ा सवाल- बेन स्टोक्स अगर कोहली को मांकडिंग करते तो क्या यह सही होता?

राजस्थान के ब्रॉन्ड एंबेसडर शेन वॉर्न ने पूछा कि अगर विराट कोहली को मांकडिंग किया जाता तो बीसीसीआई की प्रतिक्रिया क्या होती. 

IPL: शेन वॉर्न का बड़ा सवाल- बेन स्टोक्स अगर कोहली को मांकडिंग करते तो क्या यह सही होता?
विराट कोहली और बेन स्टोक्स. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: राजस्थान रॉयल्स के ब्रॉन्ड एंबेसडर शेन वॉर्न ने रविचंद्रन अश्विन द्वारा जोस बटलर को मांकडिंग करने पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने इस मसले पर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि अश्विन का कदम क्रिकेट की भावना के खिलाफ है. पंजाब के कप्तान अश्विन ने सोमवार को राजस्थान के अंग्रेज क्रिकेटर बटलर को मांकडिंग कर पैवेलियन लौटने को मजबूर कर दिया था. शेन वार्न राजस्थान के कप्तान भी रह चुके हैं. राजस्थान ने उनकी कप्तानी में ही आईपीएल का पहला खिताब जीता था. 

ऑस्ट्रेलिया के शेन वॉर्न ने लिखा, ‘एक कप्तान और व्यक्ति के रूप में अश्विन को देखकर निराश हूं. सभी कप्तान आईपीएल वॉल पर हस्ताक्षर करते हैं और यह मानते हैं कि वह खेल भावना को ध्यान में रखकर खेलेंगे. अश्विन का इरादा गेंद डालने का नहीं था, इसलिए उस गेंद को डेड बाल करार दिया जाना चाहिए था. अब बीसीसीआई को निर्णय लेना है, यह घटना आईपीएल की अच्छी छवि पेश नहीं करती.’ 

यह भी पढ़ें: IPL 2019: मांकडिंग विवाद पर बचते नजर आए राजस्थान के कप्तान अजिंक्य रहाणे, जानें क्या कहा

शेन र्वान ने एक कप्तान के रूप में अश्विन को उनकी जिम्मेदारी का अहसास कराया. वॉर्न ने लिखा, ‘एक कप्तान के रूप में आप अपनी टीम के खेलने के तरीके के मानक निर्धारित करते हैं. फिर घृणित और निम्नस्तरीय हरकत करने की क्या जरूरत है? अश्विन को इस निम्नस्तरीय हरकत (लो एक्ट) के लिए हमेशा याद किए जाएगा.’ बता दें कि क्रिकेट में नॉन स्ट्राइकर का बल्लेबाज अगर गेंदबाज के हाथ से गेंद छूटने से पहले क्रीज से बाहर निकल आए तो उसे रन आउट करने को मांकडिंग कहते हैं. 

शेन वॉर्न ने यह भी कहा कि हर हाल में जीत हासिल करने की मानसिकता युवा खिलाड़ियों के लिए सही उदाहरण पेश नहीं कर रही है. वॉर्न ने लिखा, ‘इस निम्नस्तरीय हरकत पर मेरा आखिरी विचार यह है अश्विन कि हर हाल में जीत हासिल करने की मानसिकता को रोकना चाहिए और खेल भावना को सर्वोपरि मानना चाहिए. आपको क्रिकेट खेलने वाले युवा लड़के और लड़कियों के लिए भी उदाहरण पेश करना है.’

Shane Warne 1

शेन वॉर्न ने यह भी कहा कि अगर बेन स्टोक्स ने भारतीय कप्तान विराट कोहली को इस तरीके से आउट किया होता, तो बीसीसीआई क्या करती. वॉर्न ने लिखा, ‘और वह सभी लोग (पूर्व खिलाड़ियों समेत) जो कह रहे हैं कि यह खेल के नियमों के अनुरूप है, लेकिन उसने जो किया वह आपको पसंद नहीं आया और आप ऐसा नहीं करते। उनसे सवाल है कि आप ऐसा क्यों नहीं करते? सीधा सा जवाब है कि क्योंकि यह खेल की भावना के खिलाफ है.’

उन्होंने कहा, ‘माफ करना एक चीज और जोड़नी है. जो अश्विन ने किया अगर वह स्टोक्स, कोहली के साथ करते तो क्या वह सही होता? मैं अश्विन से नाराज हूं. मैंने सोचा था वे उच्च कोटि के व्यक्ति हैं. किंग्स ने कई समर्थक खोए हैं. खासकर युवा लड़के एवं लड़कियां! मुझे उम्मीद है कि बीसीसीआई कोई कदम उठाएगी.’

(आईएएनएस)