close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

लॉर्डस टेस्ट : दूसरी पारी में आयरलैंड 38 रन पर ऑलआउट, इंग्लैंड ने 143 रनों से हराया

लॉर्ड्स टेस्ट में विश्व चैंपियन को हराने का आयरलैंड का सपना चकनाचूर हो गया.

लॉर्डस टेस्ट : दूसरी पारी में आयरलैंड 38 रन पर ऑलआउट, इंग्लैंड ने 143 रनों से हराया
आयरलैंड के लिए सबसे अधिक रन जेम्स मैकलम (11) ने बनाए.

लंदन: लॉर्ड्स टेस्ट में विश्व चैंपियन को हराने का आयरलैंड का सपना चकनाचूर हो गया. आयरलैंड की टीम मेजबान इंग्लैंड को हरा तो नहीं पाई लेकिन दूसरी पारी में 38 रन पर ऑलआउट होकर शर्मनाक रिकॉर्ड जरूर अपने नाम कर लिया. ऐतिहासिक लॉर्डस स्टेडियम में खेले गए चार दिनों के एकमात्र टेस्ट मैच कई मायनों में ऐतिहासिक रहा.

दूसरी पारी में आयरलैंड की इंग्लैंड की धारदार गेंजबाजी के आगे 15.4 ओवर में महज 38 रनों पर सिमट गई. इस तरह से इंग्लैंड ने 143 रनों से शानदार जीत दर्ज की. मेजबान टीम ने 182 रन के लक्ष्य दिया था. दूसरी पारी में इंग्लैंड के लिए तेज गेंदबाज क्रिस वोक्स ने सबसे अधिक छह विकेट चटाकए जबकि स्टुअर्ट ब्रॉड को चार विकेट मिले. यह टेस्ट क्रिकेट में उसका अब तक का सबसे कम स्कोर है. टेस्ट क्रिकेट की एक पारी में किसी टीम का यह पांचवां सबसे कम कुल योग है. न्यूजीलैंड के नाम क्रिकेट के पारंपरिक फॉर्मेट में सबसे कम रन (26) बनाने का रिकॉर्ड है. 

आयरलैंड के लिए सबसे अधिक रन जेम्स मैकलम (11) ने बनाए. उनके अलावा और कोई बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा भी नहीं छू पाया. लक्ष्य का पीछा करते हुए मेजबान टीम की शुरुआत बेहद खराब रही और उसने 11 के स्कोर पर कप्तान विलियम पोर्टरफील्ड (2) के रूप में पहला विकेट खोया. इसके बाद, पूरी टीम ताश के पत्तों की तक ढह गई और कोई भी बल्लेबाज इंग्लैंड की धारदार तेज गेंदबाजी के आगे नहीं टिका. 

इससे पहले, मेजाबन टीम ने अपनी दूसरी पारी में 303 रन बनाए. दूसरी पारी में नाईटवॉचमैन के रूप में 92 रनों की दमदार पारी खेलने वाले गेंदबाज जैक लीच को 'मैन ऑफ द मैच' चुना गया. ब्रॉड 21 रन बनाकर नाबाद रहे थे. 

मैच की पहली पारी में इंग्लैंड महज 85 रनों पर सिमट गई थी. आयरलैंड ने पहली पारी में 207 रन बनाकर 122 रनों की बढ़त हासिल की थी. हालांकि, गेंदबाजों की सधी हुई गेंदबाजी ने इंग्लैंड को एक शर्मनाक हार से बचा लिया. इंग्लैंड को एक अगस्त से ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ प्रतिष्ठित एशेज सीरीज भी खेलनी है.

(इनपुट IANS से)