शेफाली के हौसलों को नहीं रोक सकी पिता की गरीबी, अब खेलेंगी टी20 वर्ल्ड कप

Women Team India: शेफाली वर्मा का महिला टी20 वर्ल्ड कप के लिए घोषित वुमन टीम इंडिया में चयन हुआ है, यह उनका पहला आईसीसी टूर्नामेंट होगा.

शेफाली के हौसलों को नहीं रोक सकी पिता की गरीबी, अब खेलेंगी टी20 वर्ल्ड कप
शेफाली को बीसीसीआई ने इस साल का बेस्ट डेब्यू इंटरनेशनल वुमन क्रिकेटर घोषित किया है. (फोटो: IANS)

रोहतक (राज टाकिया): अगले महीने ऑस्ट्रेलिया में आयोजित होने वाले टी20 वर्ल्ड कप ( Women's T20 World Cup) के लिए भारतीय महिला क्रिकेट टीम में 15 साल की शेफाली वर्मा (Shefali Verma) को शामिल किया गया है. शेफाली के टीम में शामिल होने पर उनके परिजन बहुत खुश हैं और उन्होंने सभी का आभार जताया है. शेफाली का परिवार कभी बहुत गरीब था. शेफाली ने आजतक अपने वे फटे गल्ब्स संभाल कर रखे हैं.

गरीबी ने किया मजबूर
शेफाली अपने पिता की गरीबी पर कभी इतनी मजबूर थीं कि फटे पुराने ग्लब्ज और बैट से खेलती थीं. यही नहीं शेफाली मैदान में हाथों को इसलिए नहीं खोलती थी क्योंकि वे नहीं चाहती थी कि फ़टे ग्लब्ज को देखर दूसरे खिलाड़ी उसपर हंसें. 

यह भी पढ़ें: IND vs NZ: क्या संकेत मिल रहे हैं न्यूजीलैंड के खिलाफ घोषित टी20 टीम इंडिया से

आंसू रोक न सके शेफाली के पिता
इन सब बातों का खुलासा करते हुए शेफाली के पिता संजीव वर्मा अपने आंसू नही रोक पाए, शेफाली के पिता का कहना है कि मेरी गरिबी को देखते हुए शेफाली ने फ़टे ग्लब्ज ओर बैट की बात कभी घर मे नहीं बताई और बेटी महीनों तक उन्ही से खेलती रही. आज पिता ने जैसे ही शेफाली के पुराने ग्लब्ज और बैट को देखा तो आंसू नही रोक पाए, कुछ वक्त पहले गरीबी और मजबूरी आज  पिता की आंखों में समुंदर बन कर बह रही थी. 

 कहते है हौंसलो से उड़ान होती है. इस कहावत को 15 साल की भारतीय महिला क्रिकेटर शेफाली ने साबित कर दिखाया है. कभी गरीबी के कारण मजबूरन शेफाली फ़टे ग्लब्ज ओर बैट से खेलती थीं है, यही नहीं जब भी शेफाली मैदान में खेलने जाती थीं तो अपने फटे ग्लब्ज को अपनी किट (क्रिकट का सामान रखने का बैग) में ही छिपा लेती थीं ताकि दूसरे साथियों को फ़टे पुराने ग्लब्ज न दिखे ओर वो उसका मजाक न बनाए.

यह भी पढ़ें: IND vs AUS: पहले वनडे के लिए तैयार दोनों टीमें, यह कहानी कह रहे हैं रिकॉर्ड

संजीव वर्मा ने बताया कि एक समय ऐसा आया था कि जब मेरी जेब मे केवल 280 रुपए थे. उसी दौरान बेटी भी घर के हालातों को समझ कर अपने लिए नया बैट ओर ग्लब्ज की बात कह ही नहीं सकीं और फटे ग्लब्ज और बैट से चुपचाप खेलती रही. उ वहीं दूसरी ओर मा परवीन का कहना है कि बेटी के वर्ल्ड कप टीम में चयन होने पर बधाइयों का तांता लगा हुआ है. उन्हें भी शेफाली से अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद है.

आज शेफाली उस मुकाम को पीछे छोड़ इतनी आगे बढ़ चुकी हैं कि सभी को उस पर नाज़ है. अपनी धमाकेदार बल्लेबाजी की बदौलत शेफाली का टी-20 वर्ल्ड कप में चयन हो गया है. ये वर्ल्ड कप ऑस्ट्रेलिया में 21 फरवरी से शुरू होकर 8 मार्च तक  आयोजित किया जाएगा.

वर्ल्ड टी20 टीम: हरमनप्रीत कौर (कप्तान), स्मृति मंधाना, शेफाली वर्मा, जेमिमाह रोड्रिगेज, हरलीन देओल, दीप्ती शर्मा, वेदा कृष्णमूर्ति, रिचा घोष, तानिया भाटिया, पूनम यादव, राधा यादव, राजेश्वरी गायकवाड़, शिखा पांडे, पूजा वस्त्राकर, अरुंधति रेड्डी.