close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

स्टीव स्मिथ-एबी डिविलियर्स PSL में खेलने को हुए तैयार, लेकिन पाकिस्तान में खेलने से किया इनकार

इस साल मार्च में दक्षिण अफ्रीका में टेस्ट मैच के दौरान गेंद से छेड़छाड़ प्रकरण में भूमिका के लिए 12 महीने के प्रतिबंध का सामना कर रहे स्टीव स्मिथ को दुनिया भर की टी-20 लीग में खेलने की स्वीकृति है. 

स्टीव स्मिथ-एबी डिविलियर्स PSL में खेलने को हुए तैयार, लेकिन पाकिस्तान में खेलने से किया इनकार
स्टीव स्मिथ को दुनिया भर की टी-20 लीग में खेलने की स्वीकृति है (फाइल फोटो)

कराची : ऑस्ट्रेलिया के दागी पूर्व कप्तान स्टीव स्मिथ ने पाकिस्तान सुपर लीग (PSL) के चौथे सत्र के लिए सशर्त उपलब्धता जताई है. उन्होंने जोर देकर कहा है कि वह सिर्फ संयुक्त अरब अमीरात (UAE) में होने वाले मैचों में खेलेंगे तथा प्लेऑफ और फाइनल के लिए पाकिस्तान नहीं जाएंगे. इस साल मार्च में दक्षिण अफ्रीका में टेस्ट मैच के दौरान गेंद से छेड़छाड़ प्रकरण में भूमिका के लिए 12 महीने के प्रतिबंध का सामना कर रहे स्टीव स्मिथ को दुनिया भर की टी-20 लीग में खेलने की स्वीकृति है. उनका प्रतिबंध इंग्लैंड में अगले साल होने वाले वर्ल्ड से पूर्व खत्म होगा और यह बल्लेबाज पहली बार पीएसएल के लिए उपलब्ध होगा.

पीएसएल सचिवालय के विश्वसनीय सूत्रों के अनुसार स्टीव स्मिथ के अलावा कई अन्य स्टार विदेशी खिलाड़ियों ने भी स्पष्ट कर दिया है कि वह कराची में होने वाले फाइनल सहित आठ मैचों में पीएसएल के अंतिम चरण के लिए पाकिस्तान नहीं जाएंगे.

सूत्र ने कहा, ''स्टीव स्मिथ और इन खिलाड़ियों ने कहा कि वे सिर्फ यूएई में खेलने के लिए उपलब्ध रहेंगे.'' दक्षिण अफ्रीका के एबी डिविलियर्स भी पीएसएल में पहली बार हिस्सा लेंगे लेकिन सिर्फ दो हफ्ते के लिए और वह भी सिर्फ यूएई चरण में. 

इस्लामाबाद में 20 नवंबर को होने वाले पीएसएल के ड्राफ्ट में 371 विदेशी और 311 पाकिस्तानी खिलाड़ियों को जगह मिली है. अधिकांश विदेशी स्टार खिलाड़ी ऑस्ट्रेलिया में बिग बैश लीग खत्म होने के बाद राष्ट्रीय प्रतिबद्धता नहीं होने पर पीएसएल के कुछ हिस्से के लिए ही उपलब्ध रहेंगे. 

बता दें कि श्रीलंका की टीम पर 2009 में पाकिस्तान में हमला हुआ था, जिसके बाद से किसी भी टीम ने वहां का दौरा नहीं किया था. हालांकि, पिछले साल कुछ टीमें पाकिस्तान में मैच खेलने गई थीं. लाहौर में कज्जाफी स्टेडियम के पास लिबर्टी चौक पर मार्च 2009 में श्रीलंका की क्रिकेट टीम को लेकर जा रही एक बस पर तालिबान और एलईजे के आतंकियों ने आधुनिक हथियारों और ग्रेनेडों से हमला किया था. 

इस हमले में श्रीलंका की क्रिकेट टीम के कप्तान महेला जयवर्धने, कुमार संगकारा, अजंता मेन्डिस, तिलन समरवीरा, थरंगा पारनविताना और चामिंडा वास घायल हो गए थे. इस टीम के साथ जा रहे छह पाकिस्तानी पुलिसकर्मी हमले में मारे गए थे. इस हमले के बाद से खिलाड़ियों ने पाकिस्तान में खेलने से इंकार कर दिया था, जो अबतक बरकरार है.