न्यूजीलैंड से हारने पर टी20 वर्ल्ड कप से बाहर हो सकता है भारत? एक हार से खड़ी हुई कई मुसीबत
X

न्यूजीलैंड से हारने पर टी20 वर्ल्ड कप से बाहर हो सकता है भारत? एक हार से खड़ी हुई कई मुसीबत

भारत को टूर्नामेंट में बने रहने और अपनी किस्मत अपने हाथ में ही रखने के लिए न्यूजीलैंड के खिलाफ अगला मैच हर हाल में जीतना होगा. पाकिस्तान के बाद भारत को अगर न्यूजीलैंड के खिलाफ भी हार मिलती है, तो उस पर टी20 वर्ल्ड कप से बाहर होने का संकट आ सकता है.

न्यूजीलैंड से हारने पर टी20 वर्ल्ड कप से बाहर हो सकता है भारत? एक हार से खड़ी हुई कई मुसीबत

दुबई: भारत को पाकिस्तान के हाथों रविवार को खेले गए टी20 वर्ल्ड कप के मुकाबले में एकतरफा हार का सामना करना पड़ा. विराट कोहली की कप्तानी वाली भारतीय टीम को पाकिस्तान ने 10 विकेट से हरा दिया. इस करारी हार के साथ ही टीम इंडिया की मुश्किलें बढ़ गईं हैं. भारत का अगला मैच 31 अक्टूबर को न्यूजीलैंड से है. अगर इस मैच में भी टीम इंडिया को हार मिलती है, तो उस पर टूर्नामेंट से बाहर होने का संकट भी आ सकता है.

न्यूजीलैंड के खिलाफ भारत की जीत जरूरी

भारत को टूर्नामेंट में बने रहने और अपनी किस्मत अपने हाथ में ही रखने के लिए न्यूजीलैंड के खिलाफ अगला मैच हर हाल में जीतना होगा. पाकिस्तान के बाद भारत को अगर न्यूजीलैंड के खिलाफ भी हार मिलती है, तो उस पर टी20 वर्ल्ड कप से बाहर होने का संकट आ सकता है. पाकिस्तान और न्यूजीलैंड से हारने की स्थिति में भारत को टी20 वर्ल्ड कप में बने रहने के लिए अफगानिस्तान, स्कॉटलैंड और नामीबिया के खिलाफ अपने अगले बचे हुए 3 मुकाबले तो जीतने ही होंगे, साथ ही दूसरी टीमों की जीत और हार के नतीजे पर निर्भर रहना होगा.

पाकिस्तान और न्यूजीलैंड का 2-2 मैच हारना जरूरी 

टी20 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में जगह बनाने के लिए भारत को टॉप 2 में शामिल रहना होगा. मान लीजिए पाकिस्तान के बाद भारत को अगर न्यूजीलैंड के खिलाफ भी हार मिलती है, तो उसे ये दुआ करनी होगी कि उसकी तरह ही पाकिस्तान या न्यूजीलैंड में से कोई एक बड़ी टीम कम से कम दो मैच हार जाए. इसके बावजूद भारत को अपने अगले बचे हुए 3 मुकाबले अच्छे रन रेट को ध्यान में रखते हुए जीतने होंगे. ऐसे में 2 मैच हारने के बावजूद भारत को संजीवनी मिल सकती है. भारत को अगर सेमीफाइनल में पहुंचना है, तो पाकिस्तान और न्यूजीलैंड में से किसी एक बड़ी टीम का सेमीफाइनल की दौड़ से बाहर होना जरूरी है. ये बात अफगानिस्तान पर भी लागू होती है.

छोटी टीमों से रहना होगा सावधान

अफगानिस्तान की टीम भले ही सेमीफाइनल का सफर तय न कर पाए लेकिन वो भारत, पाकिस्तान या न्यूजीलैंड जैसी बड़ी टीम का गेम बिगाड़ सकती है. ऐसे में भारतीय टीम को हर हाल में सतर्क रहना होगा. पाकिस्तान और न्यूजीलैंड से हारने की स्थिति में भारत को छोटी टीमों से और भी ज्यादा सावधान रहना होगा, खासकर अफगानिस्तान से. अफगानिस्तान बड़ी-बड़ी टीमों को हरा सकती है. 2019  के वर्ल्ड कप में भी भारत अफगानिस्तान से हारते-हारते बचा था. 

मुजीब और राशिद से भारत को खतरा

सोमवार को अफगानिस्तान ने स्कॉटलैंड को 130 रनों के बड़े अंतर से पस्त कर दिया था. टीम इंडिया को अफगानिस्तान के खिलाफ 3 नवंबर को अबू धाबी के शेख जायेद स्टेडियम में अहम मुकाबला खेला जाना है. विराट कोहली की टीम पाकिस्तान के खिलाफ शिकस्त के बाद हर मैच जीतने की कोशिश में है जिससे सेमीफाइनल का रास्ता साफ हो सके. स्कॉटलैंड के खिलाफ मैच में अफगानिस्तान की तरफ से मुजीब उर रहमान ने 4 ओवर के स्पैल में 5 की इकॉनमी रेट से 20 रन दिए और 5 बल्लेबाजों को पवेलियन की राह दिखा. वहीं, स्टार स्पिनर राशिद खान ने 2.2 ओवर में 3.85 की इकॉनमी रेट से 4 विकेट हासिल किए. 

Trending news