ICC Tournament के Knockout दौर में क्यों 'Choker' बन जाती है Team India, सामने आई सबसे बड़ी गलती
X

ICC Tournament के Knockout दौर में क्यों 'Choker' बन जाती है Team India, सामने आई सबसे बड़ी गलती

टीम इंडिया (Team India) पिछले 8 सालों से कोई आईसीसी टूर्नामेंट (ICC Tournament) नहीं जीत पाई है, पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar)  ने इसकी सबसे बड़ी वजह बताई है

ICC Tournament के Knockout दौर में क्यों 'Choker' बन जाती है Team India, सामने आई सबसे बड़ी गलती

नई दिल्ली: टीम इंडिया (Team India) साल 2013 के बाद एक बार भी आईसीसी टूर्नामेंट नहीं जीत पाई है. इसकी सबसे बड़ी वजह है नॉक आउट मुकाबलों में टीम का परफॉर्म न करना. आखिर भारत को ऐसे क्या हो गया है कि वो पिछले 8 साल से इस बड़े खिताब से महरूम हैं. सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) ने इसका एक और बड़ा कारण बताया है.

धोनी ने दिलाई थी आखिरी ICC Trophy

टीम इंडिया (Team India) ने एमएस धोनी (MS Dhoni) की कप्तानी में साल 2013 की आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी पर कब्जा जमाया था, इसके बाद वर्ल्ड कप 2015, टी-20 वर्ल्ड कप 2016, चैंपियंस ट्रॉफी 2017 और फिर वर्ल्ड कप 2019 में भारत खिताब को अपने नाम नहीं कर पाई.
 

भारत की नाकामी की वजह क्या है?

'लिटिल मास्टर' का मानना है कि सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) कि ग्लोबल टूर्नामेंट के नॉक-आउट मैच में टीम इंडिया (Team India) की नाकामी की सबसे बड़ी वजह टीम का सेलेक्शन रहा है. उनके मुताबित भारत की सबसे बड़ी गलती कुछ खास ओवर्स में सामने आती है.

यह भी पढ़ें- IPL: अगले साल RCB इन 3 स्टार प्लेयर्स को करेगी रिटेन! इस 'हीरो' को लगेगा झटका?

'टीम कॉम्बिनेशन बेहद अहम'

सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) ने एक न्यूज चैनल से कहा, ‘बड़े मैचों में भारत की परेशानी टीम कॉम्बिनेशन रही है. अगर उन्हें नॉकआउट मैचों में प्लेइंग इलेवन का सेलेक्शन मिल जाता, तो उन्हें कम दिक्कत होती. कई बार, आपके सोचने का तरीका अलग होता है.’
 

इन गलतियों को सुधारना होगा

सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) ने कहा, ‘भारत की बल्लेबाजी की कमजोरी पावरप्ले के बाद 7वें ओवर से 12वें ओवर तक रही है. ये बहुत अच्छा होगा अगर हम उन 4 से 5 ओवरों में बेहतर बल्लेबाजी कर सकें और तकरीबन 40 रन बना सकें.’

 

'कोई टीम नहीं है फेवरेट'

सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) का मानना है कि भारतीय टीम टूर्नामेंट की चैम्पियन बनने की दावेदार के तौर पर शुरुआत नहीं करेगी. 'लिटिल मास्टर' ने आगे कहा, ‘टी20 क्रिकेट में किसी भी टीम को हराना मुश्किल नहीं है. हां, टेस्ट में आप कह सकते हैं कि आपके पास बल्लेबाजी या गेंदबाजी में गहराई है या नहीं. लेकिन टी20 में कोई भी टीम फेवरेट नहीं होती और जो टीम कम गलतियां करती है वह जीतती है.’
 

Trending news