चहल ने निकाली भड़ास, टी20 वर्ल्ड कप से बाहर किए जाने पर पहली बार तोड़ी चुप्पी
X

चहल ने निकाली भड़ास, टी20 वर्ल्ड कप से बाहर किए जाने पर पहली बार तोड़ी चुप्पी

सेलेक्टर्स ने इस बार T20 World Cup 2021 से युजवेंद्र चहल को ड्रॉप कर दिया था. सेलेक्टर्स का ये फैसला गलत साबित हुआ और टीम इंडिया T20 World Cup 2021 के ग्रुप मैचों में ही हारकर टूर्नामेंट से बाहर हो गई थी. युजवेंद्र चहल टी20 फॉर्मेट में भारत के बेहतरीन गेंदबाज हैं.

चहल ने निकाली भड़ास, टी20 वर्ल्ड कप से बाहर किए जाने पर पहली बार तोड़ी चुप्पी

दुबई: टीम इंडिया के लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल ने खुद को टीम इंडिया से ड्रॉप किए जाने पर पहली बार खुलकर बात की है. बता दें कि सेलेक्टर्स ने इस बार T20 World Cup 2021 से युजवेंद्र चहल को ड्रॉप कर दिया था. सेलेक्टर्स का ये फैसला गलत साबित हुआ और टीम इंडिया T20 World Cup 2021 के ग्रुप मैचों में ही हारकर टूर्नामेंट से बाहर हो गई थी. युजवेंद्र चहल टी20 फॉर्मेट में भारत के बेहतरीन गेंदबाज हैं.

चहल ने निकाली भड़ास

'टाइम्स ऑफ इंडिया' के साथ बातचीत में युजवेंद्र चहल ने अपना दर्द बताते हुए बड़ा बयान दिया है. युजवेंद्र चहल ने कहा, 'मैं पिछले चार साल में टीम इंडिया से ड्रॉप नहीं हुआ और उसके बाद एकदम से इतने बड़े इवेंट के लिए मुझे टीम से बाहर कर दिया गया. मुझे काफी बुरा लगा. मैं दो से तीन दिन एकदम डाउन था. लेकिन, उसके बाद मुझे पता था कि आईपीएल का दूसरा लेग बस आने ही वाला है.'

खुद को बाहर किए जाने पर पहली बार तोड़ी चुप्पी

युजवेंद्र चहल ने कहा, 'मैं अपने कोचों के पास गया और उनसे काफी बातचीत की. मेरी वाइफ और फैमिली ने मेरा हौसला लगातार बढ़ाया. मेरे फैंस ने लगातार मोटिवेशनल पोस्ट शेयर किए, जिसने मुझे ताकत दी. मैंने फैसला किया कि मैं अपनी स्ट्रेंथ को बैक करूंगा और इस कंफ्यूजन से बाहर निकलूंगा. मैं लंबे समय तक ऐसा नाराज नहीं रह सकता था, क्योंकि इससे मेरी आईपीएल फॉर्म पर असर पड़ता.'

सेलेक्टर्स ने तोड़ा था युजवेंद्र चहल का दिल

युजवेंद्र चहल टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली के सबसे करीबी खिलाड़ियों में से एक माने जाते हैं. RCB में भी दोनों साथ खेलते हैं, तो उनके बीच अच्छी बॉन्डिंग है. सेलेक्टर्स ने युजवेंद्र चहल को टी20 वर्ल्ड कप की टीम से बाहर का रास्ता दिखा दिया था. टी20 वर्ल्ड कप के लिए सेलेक्टर्स ने युजवेंद्र चहल को बाहर कर राहुल चाहर और वरुण चक्रवर्ती जैसे स्पिनरों पर दांव लगाया था, जो उल्टा पड़ गया. राहुल चाहर को तो खेलने का मौका ही नहीं मिला जबकि म बुरी तरह फ्लॉप साबित हुए. टी20 वर्ल्ड कप में वरुण चक्रवर्ती ने टीम इंडिया की लुटिया डुबो दी.

राहुल चाहर को T20 वर्ल्ड कप में चुनने पर दी गई ये दलील

टी20 वर्ल्ड कप के लिए भारतीय टीम का ऐलान करने के दौरान चीफ सेलेक्टर चेतन शर्मा ने कहा था, 'हमें टीम में ऐसा लेग स्पिनर चाहिए था, जो अधिक गति से गेंद फेंक सके. जो तेज गति के साथ पिच से अच्छी ग्रिप हासिल कर सके. ऐसे में हमने चहल की जगह राहुल चाहर को चुना.' लेकिन सेलेक्टर्स ने जिस स्पिनर को युजवेंद्र चहल की जगह टी20 वर्ल्ड कप में चुना, उसे एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला.

चहल को लेकर ये बोले थे कोहली 

भारत के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने स्वीकार किया था कि युजवेंद्र चहल (Yuzvendra Chahal) जैसे खिलाड़ी को टी20 विश्व कप की टीम से बाहर रखने का फैसला कठिन था, लेकिन यूएई की धीमी पिचों पर गेंदबाजी में रफ्तार के कारण राहुल चाहर (Rahul Chahar) को चुना गया. चाहर ने आईपीएल के इस सीजन में मुंबई इंडियंस के लिए 11 मैचों में 13 विकेट लिए, लेकिन आखिरी चरण में उन्हें टीम में जगह नहीं मिली. वहीं, चहल ने 15 मैचों में 18 विकेट लिए और हर्षल पटेल (32 विकेट) के बाद उन्होंने आरसीबी के लिए सर्वाधिक विकेट चटकाए.

टीम इंडिया को ले डूबे वरुण चक्रवर्ती

वरुण चक्रवर्ती को टी20 वर्ल्ड कप में मौका देना टीम इंडिया के सेलेक्टर्स की सबसे बड़ी भूल साबित हुई. IPL की चमकदार परफॉर्मेंस को देखकर वरुण चक्रवर्ती को टी20 वर्ल्ड कप की टीम में मौका दिया गया, लेकिन इस टूर्नामेंट में आते ही उनकी पोल खुल गई. वरुण चक्रवर्ती को टी20 वर्ल्ड कप के 3 मैचों में एक भी विकेट नसीब नहीं हुआ. वरुण चक्रवर्ती को युजवेंद्र चहल जैसे धाकड़ लेग स्पिनर की जगह मौका दिया गया, लेकिन सेलेक्टर्स को उनकी इस गलती पर बहुत पछतावा होगा. वरुण चक्रवर्ती को अब शायद ही कभी टीम इंडिया के लिए खेलने का सुनहरा मौका मिले.  

Trending news