close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

डिएगो माराडोना की 9 फीट की मूर्ति का अनावरण, इसमें उनका बेस्ट गोल दिखाया गया है

अर्जेन्टीना के दिग्गज खिलाड़ी माराडोना के जन्मदिन पर उनकी मूर्ति का अनावरण ब्यूनस आयर्स में अर्जेन्टिनोस जूनियर्स क्लब स्टेडियम के समीप किया गया.

डिएगो माराडोना की 9 फीट की मूर्ति का अनावरण, इसमें उनका बेस्ट गोल दिखाया गया है

ब्यूनस आयर्स: अर्जेन्टीना में बुधवार को महान फुटबॉलर डिएगो माराडोना के 58वें जन्मदिन का जश्न मनाया गया. इस उपलक्ष्य में उनकी कांसे की मूर्ति का अनावरण भी किया गया. इस मूर्ति में इंग्लैंड के खिलाफ उनके गोल को दर्शाया गया है, जो 20वीं शताब्दी का सर्वश्रेष्ठ गोल चुना गया था.

डिएगो माराडोना का जन्मदिन 30 अक्टूबर को था. बारिश के कारण मूर्ति के अनावरण को एक दिन के लिए टाल दिया गया. यह मूर्ति राजधानी ब्यूनस आयर्स में अर्जेन्टिनोस जूनियर्स क्लब स्टेडियम के समीप है, जहां माराडोना ने 1976 में पदार्पण किया था.

इसके एक दशक बाद माराडोना की कप्तानी में अर्जेन्टीना ने 1986 का विश्व कप जीता और इस दौरान उन्होंने खेल के इतिहास के दो यादगार गोल भी किए.माराडोना की यह मूर्ति नौ फीट की है, जिसमें उन्होंने अर्जेन्टीना जूनियर्स की लाल पोशाक पहन रखी है. हालांकि कोचिंग में व्यस्तता के कारण माराडोना इस कार्यक्रम में हिस्सा नहीं ले पाए.

माराडोना ने 16 साल की उम्र में पहला इंटरनेशनल मैच खेला था 
डिएगो माराडोना ने मात्र 16 साल की उम्र में इन्टरनेशनल फुटबॉल की दुनिया में कदम रखा था. उन्होंने 91 मैच खेले जिसमें इनके नाम 34 गोल हैं. माराडोना ने अर्जेन्टीना के लिये 4 विश्व कप खेले हैं. जिसमें 1986 वाला सबसे महत्तवपूर्ण था. इसमें वह कप्तानी कर रहे थे और ये वाला विश्व कप अर्जेन्टीना जीती थी. 1982 से लेकर 1994 तक वो अर्जेन्टीना के लिए विश्व कप खेले.

इसके अलावा वे क्लबों के लिए भी खेले हैं. माराडोना कुल 7 क्लबों के लिए खेल चुके हैं. वो मशहूर क्लब बार्सिलोना के लिए भी 36 मैच खेल चुके हैं जिसमें उन्होंने 22 गोल दागे. 1982 में बार्सिलोना ने करीब 76 करोड़ रुपये में माराडोना के साथ करार किया था. जो की उस समय की रि़कॉर्ड फीस मानी जाती है.सन् 2000 में माराडोना को फीफा प्लेयर ऑफ द सेंचुरी से भी नवाजा जा चुका है.