इंडिया ओपन बॉक्सिंग: शिव थापा और मेरीकोम ने पक्का किया मेडल, सेमीफाइनल में पहुंचे

मेरीकोम को हमवतन के बीना देवी को हराने में किसी तरह की परेशानी नहीं हुई. मणिपुर की 35 वर्षीय खिलाड़ी ने एकतरफा मुकाबले में 5-0 से जीत दर्ज की.

इंडिया ओपन बॉक्सिंग: शिव थापा और मेरीकोम ने पक्का किया मेडल, सेमीफाइनल में पहुंचे
पांच बार की विश्व और एशियाई चैंपियन एमसी मेरीकोम. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: एमसी मेरीकोम (49 किग्रा) और शिव थापा (60 किग्रा) उन प्रमुख भारतीय मुक्केबाजों में शामिल हैं जिन्होंने मंगलवार (30 जनवरी) को यहां एक लाख डॉलर इनामी इंडिया ओपन मुक्केबाजी के सेमीफाइनल में प्रवेश करके अपने लिए पदक पक्के किये. पांच बार की विश्व और एशियाई चैंपियन 12वीं वरीयता प्राप्त मेरीकोम को हमवतन के बीना देवी को हराने में किसी तरह की परेशानी नहीं हुई. मणिपुर की 35 वर्षीय खिलाड़ी ने एकतरफा मुकाबले में 5-0 से जीत दर्ज की. महिलाओं के वर्ग में सरिता देवी भी सेमीफाइनल में पहुंचने में सफल रही. उन्होंने थाईलैंड की पीमविलाई लाओपीम को 4-1 से पराजित किया. शाम के सत्र में राष्ट्रमंडल खेलों के पूर्व स्वर्ण पदक विजेता मनोज कुमार (69 किग्रा) ने हमवतन पवन कुमार को आसानी से 5-0 से शिकस्त देकर सेमीफाइनल में प्रवेश किया.

शिव थापा ने उज्बेकिस्तान के बॉक्सर को दी मात
विश्व चैंपियनशिप के कांस्य पदक विजेता शिव थापा का मुकाबला उज्बेकिस्तान के शेरबेक राखमातुलीव से था. उन्होंने सतर्क शुरुआत की और पहले तीन मिनट अपने प्रतिद्वंद्वी को परखने में लगाये. शिव ने आखिरी तीन मिनट में अपने तेवर दिखाये और जजों के विभाजित फैसले में जीत दर्ज की. असम के इस मुक्केबाज का सामना अब हमवतन मनीष कौशिक से होगा जिन्होंने क्वार्टर फाइनल में फिलीपीन्स के चार्ली सुआरेज को हराया. शिव और मनीष पिछले साल राष्ट्रीय चैंपियनशिप में भिड़े थे. इसमें मनीष ने जीत दर्ज की थी.

अमित फंगल ने कैमरून के बॉक्सर दी शिकस्त
एशियाई कांस्य पदक विजेता अमित फंगल (49 किग्रा) ने कैमरून के सिम्पलाइस फोटसाला को 5-0 से करारी शिकस्त दी. उनका सामना हमवतन लालबियाकीमा नुतलाई से होगा जिन्होंने कीनिया के शाफी हसन को हराया. सरिता सेमीफाइनल में हमवतन प्रियंका चौधरी से भिड़ेगी जिन्होंने इंडोनेशिया की हुसवातुन हसनबाय को 5-0 से पराजित किया. विश्व चैंपियनशिप की पूर्व रजत पदक विजेता स्वीटी बूरा (75 किग्रा) को नेपाल की सरस्वती राणा को हराने में खास मशक्कत नहीं करनी पड़ी. विश्व युवा चैंपियन शशि चोपड़ा ने सीनियर वर्ग में प्रभावशाली शुरुआत की. उन्होंने हमवतन वाई संध्यारानी को हराया.

सोनिया लाठेर को करना पड़ा हार का सामना
सोनिया लाठेर (57 किग्रा) को हालांकि इंडोनेशिया की क्रिस्टियन मारवान जेंबे के हाथों 2-3 से हार का सामना करना पड़ा. एशियाई खेलों की कांस्य पदक विजेता पूजा रानी (75 किग्रा) भी कैमरून की इसियान क्लोटिल्ड से 2-3 से हारकर बाहर हो गयी. इसियान सेमीफाइनल में शशि से भिड़ेगी. अंतिम चार में जगह बनाने वाले अन्य मुक्केबाजों में के श्याम कुमार (49 किग्रा), सतीश कुमार (91 किग्रा से अधिक) और अंकुश दहिया (60 किग्रा) शामिल हैं.