कोरोना के खतरे के बीच ओलंपिक आयोजकों का बड़ा बयान, जानिए गेम्स की तैयारियों पर क्या

टोक्यो ओलम्पिक 2020 के आयोजकों ने अपने ऊपर खिलाड़ियों की जान जोखिम में डालने के आरोप लगने के बाद कहा है कि खेलों की तैयारी के लिए कोई भी समाधान अनुकूल नहीं है.

कोरोना के खतरे के बीच ओलंपिक आयोजकों का बड़ा बयान, जानिए गेम्स की तैयारियों पर क्या
कोरोना वायरस के खौफ के बीच ओलंपिक आयोजित कराना आसान नहीं होगा. (फोटो-IANS)

लंदन: टोक्यो ओलम्पिक 2020 के आयोजकों ने अपने ऊपर खिलाड़ियों की जान जोखिम में डालने के आरोप लगने के बाद कहा है कि खेलों की तैयारी के लिए कोई भी समाधान अनुकूल नहीं है. ओलंपिक चैंपियन कैटरिना स्टेफानिडी ने कहा है कि अंतर्राष्ट्रीय ओलम्पिक समिति (IOC) 'हमारी सेहत के साथ जोखिम ले रही है.' वहीं ब्रिटेन की कैटरिना जॉन्सन-थॉम्पसन ने कहा कि ट्रेनिग करना इस समय 'नामुमकिन' है.

आईओसी ने इसके जवाब में कहा, "ये अलग तरह की हालात हैं जिसके लिए अलग तरह का समाधान चाहिए. आईओसी टूर्नामेंट की अखंडता और खिलाड़ियों की सेहत को ध्यान में रखते हुए ऐसा समाधान निकालने की कोशिश कर रही है जिसमें खिलाड़ियों पर कोई ज्यादा नकारात्मक असर न पड़े. इस वक्त कोई भी समाधान अनुकूल नहीं होगा और इसलिए हम खिलाड़ियों की जिम्मेदारी और एकजुटता के भरोसे हैं."

वर्ल्ड हैप्थालन चैंपियन जॉनसन फ्रांस में ट्रेनिंग कर रहीं थीं लेकिन वहां कोरोना वायरस की वजह से लॉकडाउन हो गया जिसकी वजह से उन्हें अपने देश वापस लौटना पड़ा. उन्होंने कहा, "आईओसी की सलाह खिलाड़ियों को लगातार बेस्ट तरीके से ओलंपिक गेम्स की तैयारी के लिए प्रेरित करती है क्योंकि अब खेल 4 महीने दूर हैं, लेकिन सरकार घर में रहने की सलाह दे रही है क्योंकि ट्रैक, जिम, सार्वजनिक स्थान सभी बंद हैं. मैं ट्रेनिंग और अपने रोज के कार्यक्रम को बनाए रखने में दबाव महसूस कर रही हूं क्योंकि यह नामुमकिन हो गया है."

वहीं आईओसी ने कहा है कि कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते खतरे की वजह से ओलंपिक और पैरालंपिक गेम्स को लेकर 'इस वक्त किसी तरह के बड़े फैसले लेने की जरूरत नहीं है.' आईओसी ने यह फैसला अपने कार्यकारी बोर्ड की अंतर्राष्ट्रीय महासंघों के साथ हुई बैठक के बाद लिया है. कोरोना वायरस की वजह से ओलंपिक के आयोजन पर लगातार संकट के बादल मंडरा रहे हैं. हांलाकि आयोजकों ने बार-बार इस बात की उम्मीद जताई है कि ओलंपिक अपने तय वक्त पर ही आयोजित किए जाएंगे. 
(इनपुट-आईएएनएस)

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.