close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

VIDEO: फेडरर ने जीता तीसरी बार हॉपमैन कप, बने टूर्नामेंट के सबसे सफल खिलाड़ी

फेडरर ने तीसरी बार हॉपमैन कप जीत लिया है. स्विट्जरलैंड का यह चौथा हॉपमैन कप है. 

VIDEO: फेडरर ने जीता तीसरी बार हॉपमैन कप, बने टूर्नामेंट के सबसे सफल खिलाड़ी
फेडरर ने तीसरी बार हॉपमैन कप जीता है. जबकि बेलिंडा बेनसिच के साथ दूसरी बार यह टूर्नामेंट जीता है. (फोटो PTI)

पर्थ: रोजर फेडरर ने शनिवार को पर्थ में मिश्रित टीम टूर्नामेंट के रोमांचक फाइनल में स्विट्जरलैंड को 2-1 से जीत दिलाई जिससे वे हॉपमैन कप इतिहास में सबसे सफल खिलाड़ी बन गए. फेडरर तीन हॉपमैन कप जीतने वाले पहले खिलाड़ी बन गए, उन्होंने बेलिंडा बेनसिच के साथ मिलकर टीम को लगातार खिताब दिलवाया. लगातार दूसरे साल इस स्विस खिलाड़ी ने जर्मनी के एलेक्जैंडर ज्वेरेव और एंजलिक कर्बर की जोड़ी को 4-0, 1-4, 4-3 (5/4) से हराकर निर्णायक मिश्रित युगल मुकाबला जीता. 

फेडरर ने शनिवार को चौथी वरीयता प्राप्त एलेक्जैंडर ज्वेरेव को सीधे सेटों में 6-4, 6-2 से हराकर स्विट्जरलैंड को 1-0 से आगे कर दिया. इसके बाद बाद एंजलिक कर्बर ने वापसी करते हुए महिला सिंगल्स में बेलिंडा बेनसिच को 6-4, 7-6 (6) से हरा दिया. इसके बाद फेडरर- बेनसिच ने मिश्रित युगल जीत कर टूर्नामेंट अपने नाम कर लिया. 

यह स्विट्जरलैंड का कुल चौथा खिताब है और वह ट्राफी की संख्या के मामले में अमेरिका से पीछे है जिसके नाम छह ट्राफियां हैं. फेडरर ने पहला हॉपमैन कप 2001 में जीता था तब उन्होंने मार्टिना हिंगिस के साथ जोड़ी बनाई थी. यह दूसरी बार है जब फेडरर ने बेलिंडा बेनसिच के साथ यह टूर्नामेंट जीता है. 

जीत के बाद फेडरर ने आधिकारिक वेबसाइट के हवाले से कहा, “मैं इन रिकॉर्ड से कापी खुश हूं लेकिन मैं उनके लिए यहां नहीं आया. यह काफी मजेदार रहा, मैं खुश हूं, मुझे अपने देश के लिए गर्व है, बेलिंडा के साथ खेलना काफी बढ़िया रहा.”

इससे पहले फेडरर ने गुरुवार (3 जनवरी) को ग्रीस के स्टोफानोस सिटसिपास को हराकर अपनी टीम को लगातार दूसरी बार फाइनल में पहुंचाया था. स्विस टीम को अपने ग्रुप में तीन टीमों के खिलाफ सबसे अधिक सेट जीतने का फायदा मिला था. टीम ने तीन टीमों के खिलाफ 14 सेट जीते, जबकि उसे सबसे कम छह सेट में हार का सामना करना पड़ा. इस तरह वह ग्रुप बी में पहले स्थान पर रही थी.  होपमैन कप में दो ग्रुप थे. ग्रुप ए में जर्मनी और ऑस्ट्रेलिया के अलावा स्पेन और फ्रांस की टीमें हैं. ग्रुप बी में स्विट्जरलैंड, अमेरिका, ग्रीस और ब्रिटेन की टीमें हैं.

(इनपुट भाषा)