close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

विश्व खिताब के लिए बोले विजेंदर, 'जीतने के लिए हड़बड़ी नहीं करूंगा'

अफ्रीकी चैम्पियन एर्नेस्ट अमुजु का कहना है कि उनसे भिड़ने के बाद भारतीय मुक्केबाज पेशेवर मुक्केबाजी का असली मतलब समझेंगे.

विश्व खिताब के लिए बोले विजेंदर, 'जीतने के लिए हड़बड़ी नहीं करूंगा'
23 दिसंबर को विजेंदर यहां घाना के अर्नेस्ट एमुजू से खेलेंगे (फाइल फोटो)

जयपुर:  पेशेवर सर्किट में सिर्फ दो साल पहले पदार्पण करने वाले भारत के स्टार मुक्केबाज विजेंदर सिंह ने कहा है कि वह अभी तक जीते दो खिताबों से संतुष्ट हैं और अगले साल विश्व खिताब जीतने की कवायद में कोई हड़बड़ी नहीं करेंगे. विजेंदर ने अभी तक नौ मुकाबले खेलकर सारे जीते हैं और डब्ल्यूबीओ एशिया पेसीफिक तथा ओरिएंटल सुपर मिडिलवेट खिताब अपने नाम किए. भारत के स्टार मुक्केबाज विजेंदर सिंह 23 दिसंबर को जयपुर में घाना के अर्नस्ट अमुजु के खिलाफ अपना डब्ल्यूबीओ ओरिएंटल एवं एशिया पैसिफिक सुपर मिडिलवेट खिताब का बचाव करने रिंग में उतरेंगे. अभी तक नौ बाउट में विजेंदर को हार नहीं मिली है. वह अगस्त में रिंग में उतरे थे जब उन्होंने चीन के नंबर एक मुक्केबाज जुल्फिकार मामेतियाली को हराकर डब्ल्यूबीओ ओरिएंटल खिताब हासिल किया था. एमुजू ने 25 मुकाबले खेलकर 21 जीते हैं.

विजेंदर ने कहा,‘वह अच्छा मुक्केबाज है और रिकार्ड 23 मुकाबले जीते हैं. यह एशिया में उसका पहला मुकाबला है और वह जीत को बेताब होगा. जयपुर की सुनहरी यादें मेरे जेहन में है क्योंकि रेलवे में टीसी रहते मैने यहां कुछ महीने बिताए हैं.’ उन्होंने कहा ,‘मैं अपने 10वें पेशेवर मुकाबले के लिये काफी मेहनत कर रहा हूं. निश्चित तौर पर मैं उसे हराउंगा क्योंकि सिंग इज द किंग.’ आगामी सत्र के बारे में उन्होंने कहा ,‘‘ मुझे कोई हड़बड़ी नहीं है. मैं धीरे धीरे आगे बढूंगा. हर दौर मेरे लिए फाइनल की तरह है. उम्मीद है कि अगले साल विश्व खिताब जीत सकूंगा.’ 

यह भी पढ़ें: एशेज AUSvsENG : फिक्सिंग का साया, भारतीय बुकीज ने ओवर फिक्स करने का दावा

अपने पेशेवर कैरियर के सबसे कठिन दौर के बारे में पूछने पर विजेंदर ने कहा ,‘‘ मेरे लिए पहला मुकाबला सबसे कठिन था क्योंकि मुझे यह साबित करना था कि पेशेवर मुक्केबाजी चुनने का मेरा फैसला सही था. वही अफ्रीकी चैम्पियन एर्नेस्ट अमुजु का कहना है कि उनसे भिड़ने के बाद भारतीय मुक्केबाज पेशेवर मुक्केबाजी का असली मतलब समझेंगे.

 (इनपुट भाषा)