बैडमिंटन : विश्व जूनियर चैम्पियनशिप में भारत का विजयी आगाज

विश्व जूनियर चैम्पियनशिप में अच्छी शुरुआत करते हुए टीम स्पर्धा के दोनों मुकाबले जीत लिए. भारतीय टीम ने अपने पहले मुकाबले में श्रीलंका और दूसरे मुकाबले में केन्या को मात दी. 

बैडमिंटन : विश्व जूनियर चैम्पियनशिप में भारत का विजयी आगाज
खिलाड़ियों ने अपने किसी भी मुकाबले में हार का सामना नहीं किया (@BAI_Media/Twitter)

मार्कहाम (कनाडा): भारत के जूनियर बैडमिंटन खिलाड़ियों ने यहां जारी विश्व जूनियर चैम्पियनशिप में अच्छी शुरुआत करते हुए टीम स्पर्धा के दोनों मुकाबले जीत लिए. भारतीय टीम ने अपने पहले मुकाबले में श्रीलंका और दूसरे मुकाबले में केन्या को मात दी. भारतीय टीम में शामिल खिलाड़ियों ने अपने किसी भी मुकाबले में हार का सामना नहीं किया. केन्या और श्रीलंका के खिलाफ भारतीय टीम को 5-0 से ही जीत हासिल हुई है. 

ग्रुप-ई में सोमवार देर रात अपने पहले मुकाबले में भारतीय टीम ने श्रीलंका को 5-0 से हराया. इसमें पुरुष युगल वर्ग में कृष्णा प्रसाद गार्गा और ध्रुव कपिला ने श्रीलंका के चिराथ और गाविन दुलसिथ की जोड़ी को 21-11, 21-10 से मात दी. 

महिला एकल वर्ग में मालविका बानसोड को जीत के लिए थोड़ा संघर्ष करना पड़ा, लेकिन अंत में उन्होंने फतह हासिल की. मालविका ने श्रीलंका की डिलमी डियास को 14-21, 21-11, 21-6 से मात दी. भारत के अनुभवी खिलाड़ी लक्ष्य सेन ने केवल 17 मिनटों के भीतर ही अपने प्रतिद्वंद्वी दुमिंडु को 21-9, 21-8 से मात देकर जीत हासिल की. 

इसके बाद, महिला युगल में तनिषा क्रास्टो और गायत्री गोपीचंद की जोड़ी ने 21-9, 21-12 गेमों से अपनी प्रतिद्वंद्वी हसीनी नुसाका और अनुरागी मासाकोराला को मात दी. सृष्टि जुपुडी और श्रीकृष्णा साई कुमार की जोड़ी ने जानानुवानी अमांडा और चिराथ की श्रीलंकाई जोड़ी को मिश्रित युगल वर्ग में 21-8, 21-13 से हरा दिया. 

केन्या के खिलाफ खेले गए मुकाबले में भी भारतीय टीम ने अपने सभी मैचों में जीत हासिल की. पुर्वा बारवे ने टीम का खाता खोला. उन्होंने क्रिशा गिया को 13 मिनटों में 21-3, 21-2 से हराकर टीम को 1-0 की बढ़त दी. इसके बाद, प्रियांशु राजावत ने 16 मिनट के भीतर पुरुष एकल वर्ग में अपने प्रतिद्वंद्वी मीर सोलंकी को 21-7, 21-8 से मात दी. 

महिला युगल वर्ग में इसके बाद, सतिथि बंदी और तनुश्री रमेश ने केन्या की क्रिशा गिया और शाना पटेल की जोड़ी को 16 मिनटों में ही 21-6, 21-3 से मात देकर भारत को 3-0 से आगे कर दिया. मंजीत सिंह और डिंगकु सिंह की जोड़ी ने 15 मिनट के भीतर पुरुष युगल वर्ग में खेले गए अपने मैच में जीत हासिल की. उन्होंने केन्या के उर्जन ओमित और उज्जवल ओमित की जोड़ी को 21-2, 21-6 से हराया. 

अश्विनी भट्ट और साईप्रतीक कृष्णप्रसाद ने मिश्रित युगल वर्ग में 14 मिनटों के भीतर शाना पटेल और मीर सोलंकी की केन्याई जोड़ी को 21-3, 21-5 से हराया. इस जीत को हासिल कर भारतीय टीम ग्रुप-ई में चार अंकों के साथ शीर्ष पर पहुंच गई है. उसका अगला मुकाबला मंगलवार देर रात को अब फरो आईलैंड से होगा.